गंगानगर के किसानो ने एमडीए कार्यालय घेर, दिया धरना

0
142

अधिकारी कमिश्नर से, किसान अजित सिंह से करेंगे वार्ता, नेताओं ने एमडीए वीसी व सचिव से की वार्ता, अधिकारियों पर लगाए गंभीर आरोप, भट्टा पारसोल व अलीगढ़ किसान आंदोलन की हुई चर्चा, आईआईएमटी का मुददा भी रहा चर्चा में

मेरठ 24 जनवरी। गंगानगर में भूमि पर कब्जा लेने गई एमडीए टीम व पुलिस द्वारा किसानों पर लाठीचार्ज किये जाने की बात से क्षुब्ध किसानों ने आज मेरठ विकास प्राधिकरण कार्यालय के बाहर जोरदार प्रदर्शन करते हुए धरना दिया। किसानों का कहना था कि इस कार्यवाही से उनकी फसल को नष्ट कर हमें बड़ी मुसीबत में डाल दिया। अगर भूमि कब्जानी थी तो सबसे पहले एमडीए के अधिकारी उन्हे सूचित करतें जिससे वह अपनी फसल को बचा लेंते। लेकिन उनकी फसल पर बुल्डोजर चलाया और फिर किसान महिला एवं पुरूषों पर लाठियां भांजी गई जो पूर्णतः गलत है।
इन सभी बातों को लेकर गंगानगर के किसानों ने एमडीए पर धरना दिया। वहीं दूसरी ओर किसान नेता राममेहर सिंह द्वारा जिला लोकदल के अध्यक्ष राहुल देव, राजेंद्र सिंह, महावीर सिंह, जयकरण सिंह, कर्नल साहब आदि ने एमडीए के सभागार में वीसी साहब सिंह व सचिव राज कुमार आदि से अपनी मांगों आदि के संदर्भ में बैठक की। तदउपरांत किसान नेता राममेहर सिंह ने पत्रकारों से कहा कि अधिकारियों ने हमारी मांगों से संबंध में मंडलायुक्त से बात करने की बात कहीं हैं। हम छोटे चैधरी अजित ंिसह जी से कल मिलने जाएंगे। और आंदोलन की रणनीति तय करेंगें। एक प्रश्न के उत्तर में राम मेहर सिंह ने अधिकारियों पर आईआईएमटी के मालिक के हाथों बिक जाने का आरोप लगाते हुए कहा कि आवश्यकता अविष्कार की जन्नी हैं।
हमारा आंदोलन शांतिपूर्ण है लेकिन वक्त पर कब क्या हो जाए कहा नहीं जा सकता। उक्त शब्द उन्होंने भट्टा पारसोल व अलीगढ़ के किसान आंदोलन से संबंध चर्चा में कहें। यह पूछे जाने पर की आप लोगों से आईआईएमटी के मालिक को जमीन दिलाने के लिये यह सब किया जा रहा है लेकिन उसके द्वारा जो सरकारी जमीन दबा लिये जाने की चर्चा
समय से प्राधिकरण का पैसा न देने तथा जो जमीने जिस उपयोग के लिये ली है उसका दूसरे कार्याें में इस्तेमाल करने की चर्चा के बारे में पूछा गया तो किसान नेता का कहना था कि यह सभी मुददे प्रमुखता से उठाए जाएंगे। और हमारी जमीन जबरदस्ती ली गई है वो भी कब्जा मुक्त कराएं।

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

3 × 3 =