सभी वर्गो की गरीब पुत्रियों को मिलेगा योजना का लाभः सीडीओ

0
32

मेरठ 29 जनवरी। समाज के विभिन्न वर्गो के गरीब व्यक्यिों के पुत्रियों के हाथों को पीला कर उन्हे सुखमय जीवन प्रदान करने का बीड़ा अब प्रदेश सरकार उठा रही है, उक्त विचार व्यक्त करते हुए मुख्य विकास अधिकारी आर्यका अखौरी ने कहा कि प्रदेश सरकार महिला की सुरक्षा, महिलाओं के सम्मान, महिलांओं के सशक्तिकरण सहित उन्हें हर सम्भव सुविधाएं प्रदान कर उनकें हौंसलों को बुलन्द कर रही है। उन्होंने कहा कि मा0 मुख्यमंत्री ने समाज के सभी वर्गो की गरीब पुत्रियों के विवाह हेतु आर्थिक मदद करने हेतु ‘‘मुख्यमंत्री सामुहिक विवाह योजना’’ शुरू की है। उन्होंने जनपद के खण्ड विकास अधिकारियो, नगर निकायों के अधिकारियों को निर्देश दिये कि वह योजना के सफल क्रियान्वयन हेतु जन प्रतिनिधियों, ब्लाॅक प्रमुखों, ग्राम प्रधानों का विशेष सहयोग प्राप्त करें। आज विकास भवन सभागार में ‘‘मुख्यमंत्री सामुहिक विवाह योजना’’ के अन्तर्गत गरीब पात्रों के चिन्हांकन की समीक्षा बैठक की अध्यक्षता करते हुए मुख्य विकास अधिकारी आर्यका अखौरी ने उक्त बात कही। उन्होंने ‘‘मुख्यमंत्री सामुहिक विवाह योजना’’ के सफल क्रियान्वयन की समीक्षा करते हुए सम्बंधित विभागीय अधिकारियों को निर्देशित किया कि गरीब कन्याओं का सामुहिक विवाह कराना एक पुण्य का कार्य है तो वह इस कार्य की महत्ता को दृष्टिगत रखते हुए ऐसे गरीब जोड़ो का चिन्हांकन कर उनके फार्म भरकर 01 फरवरी 2018 तक जिला समाज कल्याण अधिकारी कार्यालय में जमा कराना सुनिश्चित करें। उन्होंने बताया कि फरवरी माह के प्रथम सप्ताह में जनपद मुख्यालय पर वृहद स्तर पर गरीब कन्याओं के सामुहिक विवाह का आयोजन किया जाएगा। बैठक में मुख्य विकास अधिकारी ने जनप्रतिनिधियों, प्रबुद्धजनों एवं स्वंय सेवी संस्थाओं से अपील करते हुए कहा कि वह अपने क्षेत्रों की पात्र गरीब कन्याओं के जोड़ो को चिन्हित कर उनके फार्म भरवाने में सहयोग करें ताकि उनको मुख्यमंत्री सामुहिक विवाह योजना का लाभ दिया जा सके। उन्होंने बताया कि शासन द्वारा 476 जोडों के सामुहिक विवाह हेतु 01 करोड़ 67 लाख 60 हजार रूपये की धनराशि 35 हजार रूपये प्रति जोड़ा के अनुसार जनपद को अवमुक्त की जा चुकी है। उन्होंने बताया कि ‘‘मुख्यमंत्री सामुहिक विवाह योजना’’ के अन्तर्गत अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, अन्य पिछडा वर्ग अल्पसंख्यक वर्ग एवं सामान्य वर्ग आदि सभी वर्गो के गरीब व्यक्तियों की पुत्रियों की शादी हेतु लाभ प्रदान किया जाएगा। उन्होंने बताया कि आवेदन की प्रक्रिया के तहत सामूहिक विवाह में सम्मिलित होने वाली कन्याओं एवं विवाह करने वाले लडकों (वर) को संयुक्त रूप से पंजीकरण हेतु निर्धारित प्रारूप पर समस्त संलग्नों सहित आॅफलाइन आवेदन विवाह हेतु करना होगा, आवेदन पत्र के अलावा विवाह पंजीयन हेतु कन्या व वर को 02-02 प्रति फोटो पृथक से देना अनिवार्य होगा, निर्धारित आवेदन पत्र ग्रामीण क्षे़त्र में जिला पंचायत क्षेत्र पंचायत तथा शहरी क्षेत्र में नगर निगम /नगर पालिका परिषद /नगर पंचायत के कार्यालय में आवश्यक अभिलेखों के साथ जमा कराये जायंेगे।
इस अवसर पर विधायक रफीक अंसारी, पूर्व एमएलसी डा0 सरोजनी अग्रवाल, सांसद/ विधायक के प्रतिनिधि, बीजेपी मीडिया प्रभारी आलोक सिसौदिया, शहर काजी जैनुल राशिद्दीन, सहित परियोजना निदेशक भानू प्रताप सिंह, जिला समाज कल्याण अधिकारी उमेश द्विवेदी, मुख्य अभियंता नगर निगम के0बी0 वाष्र्णेय, डीएसटीओ अजया चैधरी, डीएसओ विकास गौतम, सामित की सदस्य संगीता श्रीवास्तव, खण्ड विकास अधिकारी चंदन देव पाण्डेय, रवि प्रकाश प्रभारी सहायक प्रबंधक अनुसचित जाति वित्त निगम नरेश कुमार सहित अनेक बीडीओ व नगर निकायो के अधिशासी अधिकारी उपस्थित रहे।

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

five × 2 =