192 टीमें घर-घर जाकर खोजेंगी टीबी के मरीज

0
1323

मेरठ. देश को 2025 तक टीबी मुक्त करना हैए ऐसे में विभागों के सामने लक्ष्य भी बड़े रख दिए गए हैं। मेरठ का स्वास्थ्य विभाग 26 दिसंबर से 9 जनवरी तक मलिन बस्तियों में टीबी मरीजों को चिन्हित करने का अभियान चलाएगा। इसके लिए भारी भरकम टीम भी फील्ड में उतारी जाएगी। सीएमओ डाण् राजकुमार ने शनिवार को जिला टीबी रोग विभाग में आयोजित प्रेस वार्ता में बताया कि जिले में नए मरीजों की खोज का सघन अभियान चलाया जाएगा। मलिन बस्तियों में 5ण्25 लाख आबादी में मरीज खोजे जाएंगे। पिछली बार चार लाख की आबादी में से 80 नए मरीज मिले थे। डाण् राजकुमार एवं जिला क्षय रोग अधिकारी डाण् एमएस फौजदार ने बताया कि टीबी उन्मूलन के लिए 192 टीमें घर.घर पहुंचेंगी। इसके लिए 38 प्रशिक्षित सुपरवाइजरों की टयूटी लगाई गई है। 1 13 नोडल अधिकारी कार्यक्रम की मानीटरिंग करेंगे। डाक्टर राजकुमार ने बताया कि टीबी उल्मूलन के लिए सरकार युद्धस्तर पर काम कर रही है। कोई भी मरीज इलाज से वंचित न रहने पाए। टीबी का मरीज हर खांसी में 50 हजार से ज्यादा बैक्टीरिया हवा में छोड़ता हैए जो कई बार कमजोर प्रतिरोधक क्षमता वालों के खतरनाक साबित होता है। पहले फेज में पांचए जबकि दूसरे फेज में 25 जिलों में अभियान चला जा रहा है। जबकि तीसरा चरण मार्च से शुरू होने की उम्मीद है।

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here