बरसात में मरम्मत के लिए दिल्‍ली मेरठ एक्‍सप्रेस वे पर 38 मशीनों संग उतारी 224 की टीमें

0
3829

मेरठ 23 जुलाई (प्र)। दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस-वे पर मेरठ से डासना के बीच बरसात में मरम्मत के लिए विशेष टीम उतारी गई है। बारिश के बाद टीम छोटी कर दी जाएगी। बारिश की वजह से एक्सप्रेसवे के दोनों तरफ मिट्टी वाले किनारे कट जाते हैं। मिट्टी धंसने से गड्ढे हो जाते हैं। रोज-रोज की इस समस्या को दूर करने के लिए 224 लोगों की टीम उतारी गई है। इस टीम में 100 श्रमिक व 124 कार्यदायी कंपनी का स्टाफ शामिल है।

ट्रैक्टर, टैंकर, स्प्रेडर, रोलर आदि मिलाकर 38 मशीनें लगाई गई हैं। गड्ढों को मिट्टी से भरा जा रहा है। गड्ढों की स्थिति के अनुसार मशीन या फिर फावड़े आदि से उसे दुरुस्त किया जाता है। जहां डामर कार्य की जरूरत होती है वहां पर डामर भी किया जा रहा है। गौरतलब है कि दैनिक जागरण ने बारिश से बार-बार किनारे कटने की खबर प्रकाशित करने पर कार्यदायी कंपनी ने इसको गंभीरता से लेते हुए टीम को विस्तार दिया। गौरतलब है कि चार साल तक एक्सप्रेस-वे तैयार करने वाली कंपनी जीआर इंफ्रा लिमिटेड को ही इसकी मरम्मत करनी है। बारिश के बाद किनारे कटने की समस्या खत्म हो जाएगी।

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

12 + 7 =