सादगी एवं हर्षोल्लास से मनायी गयी गांधी जयंती

0
845

मेरठ 2 अक्टूबर। जनपद में गांधी जयंती सादगी एवं हर्षोल्लास से मनायी गयी। प्रातः 6.30 बजे गढ रोड स्थित गांधी आश्रम से अपर जिलाधिकारी प्रशासन सत्य प्रकाश पटेल के नेतृत्व में प्रभात फेरी निकाली गयी। गांधी आश्रम में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी जी को माल्यार्पण कर प्रभात फेरी का शुभारम्भ किया गया। प्रभात फेरी गांधी आश्रम से नौचन्दी ग्राउण्ड, हापुड़ अडडा, इन्दिरा चैक, बुढाना गेट होते हुए शहीद स्मारक पर प्रभात फेरी का समापन हुआ। इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी प्रशासन सत्य प्रकाश पटेल व अपर जिलाधकारी नगर मुकेश चन्द्र ने नौचन्दी ग्राउण्ड में महात्मा गांधी की प्रतिमा, इन्दिरा चैक पर पूर्व प्रधानमंत्री इन्दिरा गांधी की प्रतिमा तथा बुढाना गेट पर शहीद मंगल पाण्डे की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर उनको कोटि-कोटि नमन किया। प्रभात फेरी के समापन पर शहीद स्मारक पर अपर जिलाधिकारी प्रशासन द्वारा शहीद मंगल पाण्डेय की मूर्ति व शहीद स्तूप पर पुष्प अर्पित किये तदोपरान्त ध्वजारोहण कर राष्ट्रगान गाया गया। प्रभात फेरी में राम सहाय इण्टर कालेज, व इस्माइल इण्टर कालेज, एनसीसी के कैडेटस तथा विभिन्न विद्यालय के छात्र-छात्राओं, होमगाडर्स, सिविल डिफेन्स के कार्यकर्ता आदि गणमान्य नागरिक शामिल रहे। कलैक्ट्रेट परिसर में अपर जिलाधिकारी प्रशासन सत्य प्रकाश पटेल ने कार्यालय में आयोजित कार्यक्रम में ध्वजारोहण कर
सामुहिक राष्ट्रगान गाया तथा महात्मा गांधी व लालबहादुर शास्त्री जी दोनो महानपुरूषों के चित्र पर माल्यार्पण कर पुष्प अर्पित किये। उन्होंने कहा कि महात्मा गंाधी जी का सत्य, अहिंसा सत्याग्रह, गरीबो एवं दलितों के प्रति प्यार तथा स्वच्छता के प्रति जागरूकता आज भी प्रासंगिक है। उन्होेने कहा कि आज का दिन उनके कृत्तिव एवं व्यक्ति को नये संदर्भो में याद करने का दिन हैं। उन्होनंे कहा कि महात्मा गांधी जी ने जिस भारत का सपना देखा था उसमें सिर्फ राजनैतिक आजादी ही नही थी बल्कि एक स्वच्छ एवं विकसित भारत की कल्पना भी थी। उन्होनंे कहा कि बापू जी के सपनों का भारत बनाने के लिए हमें सभी को अपना दृष्टिकोण बदलते हुए उनके आर्दशों पर चलना होगा। उन्होेंने कहा कि जिस प्रकार बापू ने देश को आजाद कराने के लिए अंहिसा की बात कहकर सत्यता के मार्ग एकला चलों का नारा दिया था, जिसका पर्याय यह रहा कि सम्पूर्ण भारत बापू के बापू के पीछे चला, इसी प्रकार हमें भी अच्छे कार्य की शुरूआत करने के लिए स्वयं को पहल करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री जी ने देश की खाद्यान की कमी को दूर करने के लिए देश का कुशल नेतृत्व करते हुए जय जवान जय किसान का नारा दिया और देश को खाद्यान की कमी से उभारा। इस अवसर पर बोलते हुए अपर जिलाधिकारी नगर
मुकेश चन्द्र ने कहा कि गांधी जी के सत्य और अहिंसा के मार्ग पर चलकर हम विश्व को शान्ति पथ की ओर ले जा सकते है। उन्होनंे कहा कि गांधी जी ने अपने जीवन में सिद्धान्तों से कभी समझौता नहीं किया तथा वह कोई भी कार्य करने से पहले स्वंय पर उसका प्रयोग करते थे। उन्होंने कहा कि यह समय आत्म चिंतन और मंथन का है तथा गांधी जी के सपनों का भारत बनाने के लिये हमें भौतिकता वाद में न पड़कर एक दूसरे के साथ आपसी प्रेम और भाईचारे से रहना चाहिए, यही गांधी जी को सच्ची श्रद्धांजलि होगी। उन्होंने पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री जी को नमन करते हुए कहा कि वह एक नितांत ईमानदार व सादगी पसंद व्यक्ति थे। जिन्होंने देश की तरक्की में अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभायी। कलैक्ट्रेट में गांधी जयन्ती के अवसर पर महेन्द्र कुमार धानक की मण्डली द्वारा शहनाई व बांसुरी वादन यंत्रों से गांधी जी के प्रिय गीतो का प्रस्तुतीकरण कर उपस्थित जनों को मंत्रमुग्ध कर दिया।
कार्यक्रम का सफल संचालन नगर मजिस्ट्रेट एमपी सिंह ने किया इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी एलए राजेन्द्र सिंह, व कलैक्ट्रेट कर्मियों में अध्यक्ष सुरेश चन्द्र शर्मा, ओएसडी अरविन्द गुप्ता, स्टेनों शिव कुमार, मुकेश पंवार, गुरूशरण राजवंशी, केपी सिंह, सवीता शर्मा, सहित कर्मचारी गणमान्यों में धर्मदिवाकर, जिला स्वतंत्रता सेनानी परिषद के महासचिव कृष्णपाल सिंह, कामरेड शरीफ अहमद,आदि उपस्थित रहे।

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here