Saturday, February 24

हरदोई में मंत्री के आने से चंद घंटे पहले गिरा लोक निर्माण विभाग का जर्जर पुल

Pinterest LinkedIn Tumblr +

हरदोई 06 जनवरी। लोक निर्माण मंत्री जितिन प्रसाद के जनपद आने से चंद घंटे पहले ही बिलग्राम क्षेत्र के जफरपुर मार्ग पर स्थित जर्जर पुल ढह गया। हादसा शुक्रवार शाम उस वक्त हुआ जब पुल से मौरंग लदा ट्रक गुजर रहा था। पुल के पिलर ढहने से ट्रक पुल पर अटक गया। गनीमत यह रही कि हादसे में कोई हताहत नहीं हुआ। सीडीओ ने पूरे मामले में रिपोर्ट तलब की है।
बिलग्राम कोतवाली क्षेत्र में बिलग्राम-रहुला-जफरपुर मार्ग पर गहा नाला पर लगभग 50 साल पुराना पुल है। यह पुल पिछले कई वर्ष से जर्जर है। इसके बावजूद इस पुल पर आवागमन बंद नहीं किया गया। शुक्रवार शाम को कानपुर देहात के ग्राम पेमई निवासी अमित सिंह उरई से डंपर में मौरंग लादकर गनीपुर जा रहा था। उसके साथ कन्नौज जनपद के तिर्वा निवासी संदीप भी था। गहा नाला पर स्थित जर्जर पुल पार करते समय पुल के पिलर ढह गए और डंपर पीछे की तरफ पुल पर ही अटक गया।

इसी दौरान अमित और संदीप डंपर से कूद गए। पुल के ढहने और डंपर के फंसने की जानकारी पर बड़ी संख्या में ग्रामीण मौके पर पहुंच गए। खास बात यह है कि हादसे के लगभग डेढ़ घंटे बाद तक कोई भी प्रशासनिक और पुलिस का अधिकारी मौके पर नहीं पहुंचा।

मामले को लेकर लोक निर्माण विभाग के खंड-दो के अधिशासी अभियंता ब्रजेश दीपक ने बेहद गैर जिम्मेदाराना जवाब दिया। उन्होंने कहा कि न तो हादसे की जानकारी है और न ही पुल विभाग का है। फिर कुछ देर बाद दोबारा कॉल करने पर बताया कि हादसे का पता चला है, लेकिन यह पुल सिंचाई विभाग का है। उधर, सिंचाई विभाग के शारदा खंड के अधिशासी अभियंता अखिलेश गौतम ने बताया कि यह पुल प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के तहत निर्मित सड़क पर है। ऐसे में यह पुल सिंचाई विभाग का नहीं हो सकता। फिर भी मौके पर जाकर पता करेंगे।
प्रथम दृष्टया उक्त पुल लोक निर्माण विभाग का होने की जानकारी मिली है। लोक निर्माण विभाग, प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना और सिंचाई विभाग के अधिशासी अभियंताओं को मौके पर भेजा गया है। विस्तृत रिपोर्ट मांगी गई है।

Share.

About Author

Leave A Reply