पत्रकारों पर हमला करने वालों के खिलाफ हो कार्रवाई

0
124

अगरतला. राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग (एनएचआरसी) ने त्रिपुरा के पुलिस महानिदेशक को मीडिया और पत्रकारों पर हमला करने वालों और अपराधियों के खिलाफ अगले आठ सप्ताह के भीतर कार्रवाई करने का निर्देश दिया। एनएचआरसी की सहायक रजिस्ट्रार (कानून), शुभ्रा त्यागी गोयल ने त्रिपुरा पुलिस को कहा कि पिछले साल 29 नवंबर को असेंबली ऑफ जर्नलिस्ट (एओजे) द्वारा दर्ज की गई शिकायत पर सुनवाई हुई और पुलिस प्रमुख को निर्देश जारी किया गया। एनएचआरसी ने कहा कि शिकायत संबंधित प्राधिकारी को उचित कार्रवाई के लिए भेजी जाती है।

संबंधित प्राधिकारी को आठ सप्ताह के भीतर उचित कार्रवाई करने और मामले में की गई कार्रवाई के बारे में शिकायतकर्ता/पीड़ित को सूचित करने का निर्देश दिया जाता है। एओजे ने एएचआरसी से शिकायत की कि 11 सितंबर, 2020 को मुख्यमंत्री विप्लव कुमार देव द्वारा मीडिया को अकारण धमकी दिए जाने के बाद मीडिया बिरादरी में हंगामा खड़ा हो गया और इस धमकी के तुरंत बाद दो पत्रकारों को बदमाशों ने बुरी तरह पीटा। इतना ही नहीं, इस तरह के मामलों में बढ़ोतरी देखने को मिली है। राज्य भर में इस तरह के 28 मामले दर्ज किए गए हैं। एओजे ने आरोप लगाया कि चूंकि पुलिस ने मामले में न सिर्फ अनुचित कार्रवाई की, बल्कि अपराधियों को बचाने की पुरजोर कोशिश की, और परिणामस्वरूप, मीडिया कर्मियों पर एक के बाद एक कई हमले हुए। पिछले तीन वर्षों से बड़ी संख्या में सब-डिवीजन और ब्लॉक स्तर के पत्रकारों को उनके पैतृक स्थानों से भगा दिया गया है।

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here