बकायेदारों पर प्रशासन हुआ सख्त, एक की सम्पत्ति कुर्क व एक बकायेदार को भेजा जेल

0
652

जिलाधिकारी अनिल ढींगरा ने बताया कि जनपद के बकायेदारों को अब किसी भी दशा में बख्शा नहीं जाएगा। उन्होंने सभी बकायेदारों को हिदायत देते हुए कहा कि या तो वह अपना बकाया जमा करा दें अन्यथा कड़ी कार्रवाई को रहे तैयार। उन्होंने बताया कि आज जनपद की तीनों तहसीलों के बकायेदारों पर वसूली हेतु कार्रवाई की गयी, जिसमें तहसील सरधना के एक बकायेदार की सम्पत्ति की कुर्की तथा तहसील मेरठ के बकायेदार की सम्पत्ति को सील किया गया व एक बकायेदार को जेल भेजा गया।विस्तृत जानकारी देते हुए अपर जिलाधिकारी वित्त/रा0 आनन्द कुमार ने बताया कि नमोकार प्रमोटर्स प्रा0लि0स्थित ग्राम जाटौली परगना दौराला तहसील सरधना द्वारा 2,89200 का बकाया न देने पर तहसीलदार सरधना द्वारा उनकी सम्पत्ति गाटा संख्या 1780,1777,1781 1782,1783,1784व 1785 कुल रकबा 0.434 है0 की कुर्की की गई।उन्होंने बताया कि मैसर्स ए0आर0एस0जी0 इन्फ्रा प्रा0 लि0 पर अंकन 66 लाख रूपये स्टाम्प देय/उपश्रमायुक्त की मांग होने के कारण तहसीलदार मेरठ द्वारा ए0आर0एस0जी0 इन्फ्रा प्रा0 लि0 को सील कर दिया गया। उन्होंने बताया कि तहसील मेरठ में आकाश पुत्र मनोज गोस्वामी निवासी ज्वहारनगर मेरठ पर 2.50 लाख रूपये देय होने के कारण बाकीदार को गिरफतार करके जेल भेजा गया।

उन्होंने बताया कि तहसीलदार मवाना द्वारा बाकीदार भारतवीर पुत्र दरियाव सिह निवासी ग्राम नंगला काटर परगना हस्तिनापुर से 20,97,000-रूपये के सापेक्ष अंकन 4,20,000-रूपये की वसूली की गई। उन्होंने बताया कि तहसील मेरठ के अन्तर्गत तहसीलदार मेरठ द्वारा मेरठ विकास प्राधिकरण द्वारा जारी आरसी के सापेक्ष में दैनिक वसूली अंकन 1,02,240/-रूपये व क्रमिक वसूली अंकन 2 करोड 77लाख की गई। उन्होंने बताया कि मेरठ विकास प्राधिकरण द्वारा जारी आरसी के सापेक्ष आज कुल 20,00,000/-रूपये की वसूली की गयी।

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here