डीएम की अध्यक्षता में सम्पन्न हुई विकास कार्यो की बैठक,छात्रवृत्ति व पेंशन प्रकरणों हीलाहवाली बरतने वालों पर होगी दण्डात्मक कार्यवाही-अनिल ढींगरा,सरकारी अस्पतालों में न हो आवश्यक दवाओं की कमी-डीएम किसानों को हो खाद,पानी व बिजली की पर्याप्त उपलब्धता-जिलाधिकारी

0
1257

मेरठ। जिलाधिकारी अनिल ढींगरा ने अधिकारियों को निर्देशित किया कि वे जनपद के विकास में तीव्रता लाने तथा विकास कार्यो को तयसमय सीमा में पूर्ण कर जनता के उपयोगार्थ हैण्डओवर करें, जिससे आमजन उसका लाभ प्राप्त कर सकें। उन्होंने बैठक में निर्माण/विकास कार्यो को टेण्डर प्रक्रिया अपनाकर ही शुरू कराने, जनपद की निर्माणाधीन सड़कों की चैकिंग कराने तथा छात्रवृत्ति एवं पेंशन सम्बंधी मामलों को ससमय निस्तारित करने तथा सभी चिकित्सालयों में दवाओं की उपलब्धता बनाये रखने के भी निर्देश दिये।

जिलाधिकारी अनिल ढींगरा ने बचत भवन सभागार मंे मुख्यमंत्री के प्राथमिकता वाले 61 बिन्दुओं व जनपद में संचालित निर्माण एव विकास कार्यो की समीक्षा बैठक की अध्यक्षता करते हुए उक्त निर्देश दिये। जिलाधिकारी ने मुख्य विकास अधिकारी को निर्देशित किया कि वह जनपद मे निर्माणाधीन सडकों का बी.डी.ओ. के माध्यम से चैकिंग अभियान चलवायें और उसकी आख्या प्रस्तुत करें, उन्होंने कहा कि यदि सड़क निर्माण में कहीं मानक कम पाये जायें तो सम्बंधित ठेकेदार के विरूद्ध कार्रवाई करें।

श्री ढींगरा ने समाज कल्याण, अल्पसंख्यक, पिछडा वर्ग व प्रोबेशन विभाग के अधिकारियों को निर्देश किया कि छात्र-छात्राओं को मिलने वाली छात्रवृत्ति एवं पेंशन आदि किसी भी प्रकार प्रकरण में हीलाहवाली न बरते बल्कि इसमें अभियान चलाकर लम्बित प्रकरणों का निस्तारण करें। उन्होंने कहा कि अधिकारी यह भी सुनिश्चित करें जिन छात्रों को छात्रवृत्ति अभी तक नही मिल सकी उसकी सूची 3 दिन में तैयार कर स्पष्ट कारण उल्लेख करें कि छात्रवृत्ति कब तक प्राप्त होगी। उन्होंने पेंशन प्रकरणों की समीक्षा करते हुए समाज कल्याण,प्रोबेशन अधिकारी को सख्त निर्देश दिये कि पेंशन प्रकरण की सूची के साथ लम्बित पड़ें सत्यापन प्रकरणों का पूर्ण विवरण तैयार कर इनका सत्यापन कार्य सम्बंधित से समन्वय कर तीव्रता से करायें।

जिलाधिकारी ने मुख्य विकास अधिकारी को निर्देश दिए कि वह जनपद में गडढा मुक्त सड़के, राशन वितरण,स्वास्थ्य सुविधा ,हैण्डपम्प, खाद, शिक्षा आदि की उपलब्धता ससमय करायें और यदि इसमें कोई समस्या हो तो उससे उच्चाधिकारियों को अवगत करायें ताकि समय से निस्तारण किया जा सके। उन्होंने कहा कि ग्राम पंचायत, क्षेत्र पंचायत व जिला पंचायत के अधीन होने वाले सभी विकास कार्यो को सम्बंधित उच्चाधिकारियों के अनुमोदन उपरान्त टेण्डर प्रक्रिया अपनाकर कार्यो को गुणवत्तायुक्त कराया जाए। उन्होंने डी0पी0आर0ओ0को निर्देशित किया कि वे ऐसे दो ग्राम प्रधानों को चिन्हित कर बतायें जिनके द्वारा राज्य एवं 14वां वित्त आयोग द्वारा जारी धनराशि सबसे कम खर्च की है। उन्होंने ग्रामों में विकास कार्यो की फोटोग्राफी तथा व्यय की गई धनराशि का फीडिंग कार्य पूर्ण कराने के भी संबंधित को निर्देश दिए । श्री अनिल ढींगरा ने स्वास्थ्य विभाग के कार्यो को समीक्षा करते हुए मुख्य चिकित्सा अधिकारी को निर्देश दिये कि वह सभी सीएचसी, पीएचसी तथा सरकारी अस्पतालों में मिलने वाली निःशुल्क दवा व अन्य जांचों की उपलब्धता सुनिश्चित करें ताकि आम नागरिक उनसे लाभान्वित हो सके। उन्होंने कहा कि सीएचसी, पीएचसी तथा सरकारी अस्पतालों में जो दवा उपलब्ध नही है उसकी सूची उन्हें प्रस्तुत करें ताकि दवाओं की उपलब्धता करायी जा सके। उन्होंने सीएमओ को निर्देश दिए किए वे अस्पतालों में दवाओं की पर्याप्त उपलब्धता सुनिश्चित करें जिससे किसी मरीज को कोई असुविधा न उठानी पडे ।जिलाधिकारी ने कहा मा0मुख्यमंत्री किसानों के प्रति पूर्ण संवेदनशील है, इसलिए अधिकारी किसानों की भलाई हेतु खाद बीज, व अंितम टेल तक पानी नहरों/रजवाहों में पहंुंचाना सुनिश्चित करें और किसानों के लिये जो योजनाए संचालित है उसका अधिक से अधिक प्रचार प्रसार करायें ताकि किसान योजनाओं से लाभान्वित हो सके। उन्होंने विद्युत अधिकारियों को शासन के निर्देशानुसार शहरी क्षेत्र में 24 घण्टे तथा ग्रामीण क्षेत्रों में 18 घण्टे व तहसील स्तर पर 20 विद्युत आपूर्ति सुनिश्चित कराने के निर्देश दिये। जिलाधिकारी ने 50 लाख से अधिक लागत के निर्माण कार्यो, महिला सुरक्षा, सर्व शिक्षा अभियान, ई-टेण्डरिंग, सड़कों को गढढा मुक्त, गन्ना भुगतान, कावंड मार्ग की प्रगति, प्रधानमंत्री आवास योजना, स्वास्थ्य विभाग की योजनाओं, कौशल विकास मिशन, प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना, राष्ट्रीय सामाजिक सहायता कार्यक्रम, प्रधानमंत्री, मनरेगा, प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना, राशन वितरण, आंगनबाड़ी कन्द्रांे की स्थापना, आदि विभागों की विभागवार समीक्षा की तथा आवश्यक दिशा निर्देश दिये।
इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी आर्यका अखौरी, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा0 राजकुमार,जिला कृषि अधिकारी प्रमोद सिरोही,जिला अर्थ एवं संख्या अधिकारी अजया चैधरी,जिला प्रोबेशन अधिकारी श्रवण कुमार गुप्ता,उप श्रमायुक्त सरजूराम शर्मा,जिला समाज कल्याण अधिकारी,अधिशासी अभियन्ता लो0नि0वि0,अधिशासी अभियन्ता विधुत, सहित जल निगम,शिक्षा,सेतू निगम,सहित संबंधित विभागीय जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित थे।

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here