डीएम ने बैठक कर अधिकारियों को दिये अभियान चलाकर सड़कों से अतिक्रमण हटाने के निर्देश नगर निगम व एमडीए करेगा 05-05 मुख्य चैराहों का सौन्दर्यीकण-डीएम अतिक्रमण हटाने के नाम पर किसी भी गरीब का न हो उत्पीड़न-अनिल ढींगरा अतिक्रमण मुक्त जगह को ग्रीन बेल्ट के रूप में करें विकसित-जिलाधिकारी

0
600

खाली शासकीय भूमि व निजी भूमि पर अनुबंध कर सुनिश्चित करें पर्किंग व्यवस्था-डीएम

मेरठ 15 मार्च । जनपद को जाममुक्त व मुख्य चैराहों से अतिक्रमण मुक्त तथा यातायात व्यवस्था को सुगम बनाने के मददेनजर जिलाधिकारी अनिल ढीगरा ने एमडीए, नगर निगम, पुलिस एवं वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारियों को निर्देशित किया कि वह एक संयुक्त टीम गठित कर सड़कों से अवैध अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई करें। उन्होंने निगम व एमडीए के अधिकारियों को 05-05 मुख्य चैराहों का सौन्दर्यीकण कर माॅडल के रूप में विकसित करने तथा वहां पर 50-50 मीटर के दायरे को नो वेडिंग जोन की श्रेणी में रखने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि अधिकारी अभियान चलाकर सड़को की सीमा के चिन्हांकन का कार्य तीन दिन में पूर्ण कर अवैध अतिक्रमण हटायें तथा आमजन को सुगम यातायात प्रदान कर जाम की समस्या से निजात दिलायें।
उन्होंने अधिकारियों को कड़े शब्दों में कहा कि अतिक्रमण हटाने के नाम पर किसी भी गरीब का उत्पीड़न नहीं होना चाहिए यदि ऐसा पाया गया तो सम्बंधित अधिकारी के विरूद्ध दण्डात्मक कार्रवाई की जाएगी। डीएम ने एमडीए व नगर निगम के अधिकारियों को निर्देशित किया कि वह चैराहों व सड़कों के किनारे अतिक्रमण हटाने के साथ खाली जगह पर पिलर व तार लगाकर उसे ग्रीन बेल्ट के रूप में विकसित कराने का कार्य साथ-साथ करें। उन्होंने स्पष्ट हिदायत दी की अधिकारी ऐसी कार्य योजना बनायें कि अवैध कब्जा हटाने की कार्रवाई धरातल पर नजर आये।
जिलाधिकारी अनिल ढींगरा आज बचत भवन सभागार में चैराहों/सड़कों को अतिक्रमण मुक्त किये जाने के सम्बंध में आयोजित बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे। उन्होंने विभागीय अधिकारियों को स्पष्ट निर्देश दिये कि वह सड़कों की सीमा का चिन्हाकन अवैध कब्जों को हटायें तथा उस पर दुबारा कब्जा न हो उसकों ग्रीन बेल्ट के रूप में विकसित करें। उन्होंने कहा कि सड़कों के किनारे किसी भी प्रकार का अवैध कब्जा न होने दें इसके लिए पहले सम्बंधित को सीमांकन के सम्बंध मंे तथा वार्ता कर उन्हें स्व्ंाय अवैध कब्जा हटाने के लिए प्रेरित करें यदि वह समय सीमता में अवैध कब्जा नहीं हटातात को तो अभियान चलाकर अवैध कब्जा हटाने के कार्रवाई करें।
श्री ढींगरा ने अधिकारियों को निर्देशित किया कि नगर निगम, निकायों के साथ तहसील ब्लाॅक एवं क्षेंत्रों में भी कार्ययोजना तैयार सड़कों से अतिक्रमण हटायें तथा चैराहों का सन्दर्यीकरण करें। उन्होंने अवैध होर्डिंग यूनीपोल, अनाधिकृत कट, विवाह मण्डप, अवैध पशु डेरी, अवैध गोबर डालना तथा सरकारी भूमि से भी अवैध कब्जों को अभियान चलाकर हटावायें तथा लगातार मनीटरिंग करें कि वहां दंुबारा कब्जा न हों।
जिलाधिकारी ने मैडिकल गेट के सामने चैराहें का सौन्दर्यीकरण करने तथा सडक किनारे की जगह को सीमाकन कर उसके ग्रीन बेल्ट के रूप में विकसित करने के निर्देश दिये। उन्होंने शहरी क्षेत्र में मुख्य बाजारों के आसपास पार्किग की समस्या का दृष्टिगत रखते हुए खाली पड़ी शासकीय जगहों को चिन्हित करने तथा निजी क्षेत्र में सहमति के आधार पर अनुबंध कर पार्किंग की व्यवस्था करने के निर्देश नगर निगम व एमडीए अधिकारियों को दिये।
इस अवसर पर एडीएम प्रशासन सत्य प्रकाश पटेल, नगर मुकेश चन्द्र, वित्त आनन्द कुमार, न्यायाकि प्रवीणा अग्रवाल, भूमि अध्यापति ज्ञानन्द्र कुमार, सचिव एमडीएम राजकुमार, उपजिलाधिकारी सदर निशा अनन्त सरधना राकेश कुमार सिंह, मवाना अंकुर श्रीवास्तव, अपर नगर आयुक्त ए.एच.कर्नी, एसपी देहात राजेश कुमार, एसपी यातायात संजीव वाजपेयी एसीएम अरविन्द कुमार सिंह, गुलशन, सहायक अभियंता आवास विकास शशि भूषण सहित सभी पुलिस क्षेत्राधिकारी एवं अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here