चंडीगढ़ की हरनाज संधू बनीं मिस यूनिवर्स, 21 साल के बाद भारत ने जीता ये खिताब

0
356

नई दिल्ली. मिस दिवा यूनिवर्स 2021 का आयोजन इजरायल के इलियट में हुआ है. इस प्रतियोगिता को भारत की हरनाज संधू ने जीत लिया है. 21 साल बाद भारत ने मिस यूनिवर्स का खिताब जीता है. इस प्रतियोगिता के प्रीलिमिनरी स्टेज में 75 से ज्यादा खूबसूरत और प्रतिभाशाली महिलाओं ने भाग लिया था लेकिन टॉप 3 में तीन देशों की महिलाओं ने जगह बनाई इसमें से एक भारत की हरनाज संधू भी रहीं.

हरनाज ने साउथ अफ्रीका और Paraguay को पीछे छोड़ते हुए ब्रह्माण्ड सुंदरी का ताज अपने नाम कर लिया. इस समारोह का हिस्सा बनने भारत से दिया मिर्जा भी पहुंचीं. उर्वशी रौतेला ने इस बार Miss Universe 2021 के कॉन्टेस्ट को जज किया.

इस सवाल का जवाब देकर जीता खिताब
सभी टॉप तीन प्रतियोगियों से सवाल पूछा गया था कि आप दवाब का सामना कर रहीं महिलाओं को क्या सलाह देंगी? इसपर हरनाज संधू ने जवाब दिया, आपको यह मानना होगा कि आप अद्वितीय हैं और यही आपको खूबसूरत बनाती है. बाहर आएं, अपने लिए बोलना सीखें क्योंकि आप अपने जीवन के नेता हैं. इस जवाब के साथ ही हरनाज संधू से इस साल का मिस यूनिवर्स 2021 का खिताब अपने नाम कर लिया.

सेमी फिनाले में पूछा गया ये सवाल
सेमीफिनाले में जगह बनाने के बाद होस्ट स्टीव हार्व ने संधू से उनके पसंदीदा जानवर के बारे में पूछा था, उन्होंने ऑडियंस का अभिवादन करते हुए नमस्ते कहा और बताया कि उन्हें बिल्लियां बहुत पसंद है. सेमीफाइनलिस्ट बनने से पहले हरनाज ने कहा था, ”कभी भी अपने शौक से समझौता नहीं करना चाहिए. क्योंकि इससे आपका सपना करियर बन सकता है. इस ब्यूटी पीजेंट में फ्रांस, कोलंबिया, सिंगापुर, ग्रेट ब्रिटेन, अमेरिका, भारत, वियतनाम, पनामा, अरूबा, पराग्वे, फिलीपींस, वेनेजुएला और दक्षिण अफ्रीका शामिल हैं.

पिछले शुक्रवार को हुई प्रतियोगिता में हरनाज ने पारंपरिक राष्ट्रीय पोशाक पहनकर भाग लिया था. उनका कॉस्ट्यूम किसी रानी की तरह था जो महिला रक्षक के रूप में प्रतिनिधित्व कर रही थीं.

उनकी पोशाक में ऐसे तत्व थे जो महिला की सुरक्षात्नकता का प्रतीक थे. राष्ट्रीय पोशाक में मिरर वर्क का काम किया गया था. ये एक तरह की कढ़ाई होती ह 13वीं शाब्दी में मुगल काल को दौरान चलन में थी. इस्लाम धर्म के अनुसार, मिरर बुरी आत्माओं और बुरी नजर को कैद करने का काम करता है. हिंदू और जैन धर्म में मान्यता था कि दरवाजे पर शीशे का तोरन लगाने से बुरी आत्माएं दूर रहती है. वहीं, छाता छाया का प्रतीक माना जाता है जो आपको सुरक्षा देने का काम करता है.

पंजाब के चंडीगढ़ की रहने वाली हरनाज संधू पेशे से एक मॉडल हैं. 21 साल की हरनाज ने मॉडलिंग व कई पेजेंट में हिस्सा लेने और जीत हासिल करने के बावजूद भी पढ़ाई पर पूरा ध्यान दिया. हरनाज ने साल 2017 में मिस चंड़ीगढ़ का खिताब जीता था. इसके बाद उन्होंने मिस मैक्स इमर्जिंग स्टार इंडिया का खिताब अपने नाम किया. ये दो प्रतिष्ठित खिताब अपने नाम करने के बाद हरनाज ने मिस इंडिया 2019 में हिस्सा लिया और तब वह टॉप 12 तक पहुंची थीं. मॉडलिंग के साथ-साथ हरनाज एक्टिंग में भी कदम रख चुकी हैं. हरनाज के पास दो पंजाबी फिल्म ‘यारा दियां पू बारां’ और ‘बाई जी कुट्टांगे’ हैं.

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here