पौधों का विकास निरायी, गुड़ाई व सिंचाई से होता है किन्तु बच्चों का विकास शिक्षा से होता है-मंत्री श्री धर्मपाल सिंह

0
661

लखनऊ।     कान्वेन्ट स्कूलों में भी अब गरीबों के बच्चे पढेगें। अब तक हुजूर के बेटे हुजूर बनते थे लेकिन अब किसान और मजदूरों के बेटे भी हुजूर बनेगें। मा0 सिंचाई एवं सिंचाई यांत्रिक मंत्री श्री धर्मपाल सिंह ने उपरोक्त विचार स्थानीय राजकीय इण्टर कालेज में “स्कूल चलो अभियान” के अन्तर्गत सम्पन्न संगोष्ठी तथा “एक साल नई मिशाल” कार्यक्रम के अन्तर्गत लोक कल्याण मेले को सम्बोधित करते हुए व्यक्त किए। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार ने लोक संकल्प के सारे कार्य एक वर्ष में कर दिए हैं।
सिंचाई मंत्री/जनपद बांदा के प्रभारी मंत्री श्री धर्मपाल सिंह ने कहा कि प्रदेश में लघु एवं सीमांत किसानों का 26 हजार करोड़ रुपये का कर्ज प्रदेश सरकार द्वारा माफ किया गया है। इसके साथ ही प्रधानमंत्री आवास योजना के अन्तर्गत 2.5 लाख बेघर व्यक्तियों को आवास उपलब्ध कराये गये हैं। श्री सिंह ने कहा कि सरकार द्वारा बिना किसी भेदभाव के 65 लाख गरीब व्यक्तियों को रसोई गैस कनेक्शन उपलब्ध कराये गये हैं।
मंत्री श्री धर्मपाल सिंह ने कहा कि प्रदेश में 25 लाख गरीब व्यक्तियों को निःशुल्क विद्युत कनेक्शन प्रदान किये गए हैं तथा गरीब परिवारों के घरों में सरकार ने रोशनी पहुॅचाने का कार्य किया है। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए प्रभावी प्रयास किये जा रहे है। प्रदेश में कानून व्यवस्था की स्थिति अच्छी हुई है तथा अपराधी पुलिस से डरते है। इसी का परिणाम है कि इन्वेस्टर समिट में प्रदेश ही नहीं देश के नामी उद्योगपतियों ने प्रदेश में निवेश करने की स्वीकृति प्रदान की है। उन्होंने कहा कि किसानों को उचित मूल्य प्रदान करने के लिए सरकार ने धान व आलू की खरीद की व्यवस्था की थी तथा गेहूॅ की खरीद का कार्य भी प्रारम्भ करा दिया गया है।
प्रभारी मंत्री श्री सिंह ने कहा कि केन व बेतवा समझौता हो चुका है तथा शीघ्र ही बांदा को सिंचाई व पेयजल हेतु अधिक पानी प्राप्त हो सकेगा। उन्होंने अधिकारियों से अपेक्षा की कि वे शासन द्वारा चलायी जा रही येाजनाओं का लाभ अंतिम छोर पर बैठे व्यक्तियों को पहुॅचाना सुनिश्चित करें।
प्रभारी मंत्री श्री धर्मपाल सिंह ने कहा कि पौधों का विकास निरायी, गुड़ाई व सिंचाई से होता है किन्तु बच्चों का विकास शिक्षा से होता है। प्राथमिक विद्यालयों में अधिकतर गरीबों के बच्चे पढ़ते हैं। वर्तमान सरकार की चिंता है कि गरीबों के बच्चों को अच्छी शिक्षा प्राप्त हो सके। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा प्राथमिक विद्यालयों को अच्छी ड्रेस उपलब्ध कराने के साथ-साथ बस्ता, स्वेटर तथा जूते भी उपलब्ध करायें है। सिंचाई मंत्री ने उपस्थित लोगों से यह संकल्प लेने का आह्वाहन किया कि स्कूल चलों अभियान के अन्तर्गत वे कम से कम 05 बच्चों को प्राथमिक विद्यालय में प्रवेश करायेगें। उन्होंने कहा कि शिक्षा प्राप्त करना बच्चों का मौलिक अधिकार है तथा 6 वर्ष से 14 वर्ष तक के बच्चों से कार्य कराना अपराध है। उन्होंने जनप्रतिनिधियों से अपील की कि वे गरीब बच्चों का नामांकन कराने में सहयोग प्रदान करें।
इससे पूर्व प्रभारी मंत्री श्री धर्मपाल सिंह ने दीप प्रज्जवलित कर कार्यक्रम का शुभारम किया। उन्होंने प्रधान मंत्री आवास योजना के 11 लाभार्थियों को चाभी प्रदान की। उन्होंने लोक कल्याण मेले के अन्तर्गत लगायी गयी विभिन्न विभागों की प्रदर्शनियों का भी अवलोकन किया।
इस अवसर पर विधायक बबेरू श्री चन्द्रपाल कुशवाहा, विधायक नरैनी श्री राजकरन कबीर, जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती सरिता द्विवेदी, जिला अधिकारी श्री दिव्य प्रकाश गिरि, मुख्य विकास अधिकारी श्री आर0के0 सिंह तथा अन्य जन प्रतिनिधिगण भारी संख्या में उपस्थित थे।

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here