कमिश्नर सुरेंद्र सिंह ने किया काली नदी के पुनर्जीवन का मंगल आगाज

0
254

मेरठ, 22 जून (प्र) जिले से गुजरने वाली काली नदी के पुनर्जीवन का मंगल आगाज हो गया है। अधिकारियों ने आज रजपुरा ब्लाक के गांव गांवड़ी में पहुंचकर काली नदी को संवारने का कार्य किया। कमिश्नर, जिलाधिकारी, सीडीओ, डीएफओ ने नदी किनारे पौधे लगाए। वहीं मनरेगा से जुड़े 50 श्रमिकों, जेसीबी, पोकलेन मशीनों को कार्य में लगा दिया है।

कमिश्नर सुरेंद्र सिंह ने कहा कि कार्य को मिशन मोड में करना होगा। ऐसा नहीं कि सिर्फ कार्यक्रम हुआ और अखबारों में प्रकाशित होने पर शांत हो गए। हमें 15 दिन में दो किलोमीटर में नदी को पवित्र बनाना है। कहा कि एक बड़े कार्यक्रम की तैयारी करें, जिससे यह कार्य पूरा कर लिया जाए। इसमें ग्राम प्रधानों और सामाजिक संस्थाओं का सहयोग जरूरी है। एक सप्ताह में नदी की पैमाइश करने के निर्देश एसडीएम सदर संदीप भगिया को दिए गए हैं। कैच द रैन अभियान के अंतर्गत नदी को संवारने के लिए प्लान तैयार किया गया है। दो दिन पहले ही मुख्य विकास अधिकारी शशांक चैधरी ने हस्तिनापुर और नंगली गांव का निरीक्षण किया था। गांवड़ी गांव के पास दो किलोमीटर के हिस्से में पोकलेन, जेसीबी मशीनों की सहायता से 100 फीट चैड़े स्थान की खुदाई की जाएगी।

इस कार्य का शुभारंभ आज कमिश्नर सुरेंद्र सिंह, जिलाधिकारी के. बालाजी ने किया। इसमें मनरेगा से कार्य करने वाले श्रमिकों को भी रोजगार मिलेगा। इस अभियान को 15 दिन में पूरा करने का लक्ष्य तय किया गया है। वहीं, अगले चरण में वन महोत्सव के दौरान पौधरोपण, वेटलेंड बनाने की योजना है। इस चरण को पूरा करने के बाद नंगली गांव से श्रमदान कार्य शुरू किया जाएगा। इस कार्य का नाम काली नदी सेवा दिया गया है।मेरठ जिले में काली नदी की लंबाई 40 किलोमीटर है। काली नदी मुजफ्फरनगर जिले के खतौली तहसील के अंतवाड़ा गांव से शुरू होकर मेरठ, हापुड़, बुलंदशहर, अलीगढ़, कासगंज, फरुर्खाबाद होते हुए कन्नौज में गंगा नदी में मिल जाती है। इसकी कुल लंबाई 600 किलोमीटर है। मेरठ में नदी सरधना तहसील के नंगली गांव से प्रवेश करते हुए खरखौदा ब्लाक के अतराड़ा गांव से होते हुए हापुड़ में प्रवेश करती है।
नीर फाउंडेशन के संस्थापक रमन त्यागी ने कहा कि मेरठ शहर से पहले तक नदी प्रदूषित नहीं है। ये मेरठ शहर के बाद सबसे अधिक प्रदूषित है। इसमें शहर का पूरा सीवरेज डाला जा रहा है।

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

sixteen + thirteen =