आयुक्त ने की निर्मल हिंडन अभियान व कार्यशाला की तैयारियों की समीक्षा 08 अप्रैल को होगी निर्मल हिंडन अभियान के सम्बध्ंा में ग्राम प्रधानों की कार्यशाला-आयुक्त जन जागरूकता अभियान व जनसहभागिता से निर्मल होगी हिंडन-डा० प्रभात कुमार

0
769

‘‘उठो साथियों नदी बचायें, मिलकर कसम उठा लो, कूडा-कचरा आदि अब मत हिंडन में डालो’’

मेरठ :‘‘उठो साथियों नदी बचायें, मिलकर कसम उठा लो, कूडा-कचरा आदि अब मत हिंडन में डालो।’’ निर्मल हिंडन अभियान हिंडन से जुड़ें मेरठ व सहारनपुर मण्डल के सातों जनपदों के करीब 300 ग्राम प्रधानों व सभी पंचायत सचिवों की कार्यशाला कराकर उनका योगदान सुनिश्चित कराया जाएगा। कार्यशाला का आयोजन आगामी 08 अप्रैल 2018 को प्रातः 10 से 02 बजे तक सुभारती विश्वविद्यालय दिल्ली रोड में किया जाएगा। कार्यशाला में पांच विषयों पर उदबोधन व व्याख्यान होगा, प्रसिद्ध रागिनी गायक ब्रहमपाल नागर जी द्वारा प्रस्तुति, निर्मल हिंडन पर बनायी गयी लघु डाॅक्यूमैंट्री फिल्म का प्रस्तुतिकरण व निर्मल हिंडन वैबसाईट व एैप को लाॅन्च भी किया जायेगा।
आयुक्त कैम्प कार्यालय में कार्यशाला के सफल आयोजन व तैयारियों की समीक्षा बैठक की अध्यक्षता करते हुए आयुक्त डा० प्रभात कुमार ने यह जानकारी दी। उन्होंने अधिकारियों को कार्यशाला को सफल बनाने व जनमानस को जागरूक कर जनसहभागिता से हिंडन को निर्मल बनाने के लिये कहा। आयुक्त डा० प्रभात कुमार ने बताया कि कार्यशाला के दौरान पांच विषयों (थीमों) जिसमें तरल एवं ठोस अपशिष्ट प्रबन्धन, जैविक खेती, तालाबों का सौन्दर्यीकरण व जीर्णोद्धार, जन जागरूकता अभियान व जनसहभागिता तथा वृक्षारोपण अभियान विषयों पर उदबोधन व व्याख्यान होगा।
आयुक्त ने हिंडन, काली नदी व कृष्णा नदी से सम्बंधित सभी जिलों में दाई और बांयी और जिस जिस लम्बाई से वह नदी गुजर रही है उसके किनारे बसे ग्रामों में गा्रम समाज की भूमि पर या नदी पर हुए अतिक्रमण को चिन्हित करें ताकि अतिक्रमण मुक्त ठीक कराया जा सके। आयुक्त ने औद्योगिक प्रवाह पर नियंत्रण के सम्बंध में औद्योगिक इकाईयों द्वारा हिंडन व उसकी सहायक नदियो में जो एफलूऐट गिराया जा रहा है उसमें अगर प्रदूषण का स्तर मान्य स्तर से अधिक है तो ऐसी औद्योगिक इकाईयों के विरूद्ध कार्यवाही करें।
आयुक्त ने नगरीय अपशिष्ट व घरेलू कचरे के समाधान के सम्बंध में हिंडन व उसकी सहायक नदियों में गिर रहे 68 नालों का सर्वे कराकर नालों के पानी के कम्पोनेन्ट की जांच कराने के लिए निर्देशित किया। आयुक्त ने हिंडन से जुडे ग्रामों में माॅडल क्रापिंग सिस्टम तैयार करने व कृषकों को जैविक खेती अपनाने के लिए प्रेरित करने के लिए कहा।
आयुक्त ने उपनिदेशक पंचायतीराज को निर्देशित किया कि वह ग्राम प्रधानों को लाने व ले जाने की व्यवस्था अच्छी प्रकार से सम्पन्न करायें ताकि किसी को कोई दिक्कत का सामना न करना पडे, उन्होंने कहा की ग्राम प्रधान ही आगे चलकर अभियान को गति देते हुए वर्ड आॅफ माऊथ का कार्य करेंगे।
अपर जिलाधिकारी प्रशासन मेरठ सत्य प्रकाश पटेल ने बताया कि कार्यशाला में मंडलायुक्त सहारनुपर व हिंडन से सम्बंधित सातों जनपदों के जिलाधिकारी, पंचायत सचिव, करीब 300 ग्राम प्रधान व 85 एनजीओ के प्रतिनिधि सहित अन्य अधिकारी व गणमान्य लोग उपस्थित रहेंगें। उन्होंने बताया कि इस दौरान हिंडन अभियान के अन्तर्गत उत्कृष्ट कार्य करने वाले व्यक्तियों को सम्मानित भी किया जाएगा। उन्होंने बताया कि 355 किमी लम्बी हिडन जो कि सात जनपदों से होकर गुजरती है के किनारे करीब 312 औद्योगिक इकाईयां स्थापित हैं।
इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी, मेरठ आर्यका अखौरी, शामली रेनू तिवारी, संयुक्त विकास आयुक्त ए.बी. मिश्रा, सेवानिवृत्त आईएफएस डीबी कपिल, अधीक्षण अभियन्ता सिंचाई एच.एन. सिंह, उप निदेशक पंचायत मेरठ अमरजीत सिंह, सहारनपुर अनिल कुमार सिंह, एम.एस. जैन, अयाज मेवाती सहित अन्य विभाग के अधिकारी, एनजीओ प्रतिनिधि आदि उपस्थित रहे।

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here