लिसाड़ीगेट में दो समुदाय में टकराव, जमकर लाठी-डंडे चलने के कारण एक समुदाय के 3 लोग घायल

0
111

मेरठ 25 जनवरी (प्र)। लिसाड़ी गेट थाना क्षेत्र मदीना कॉलोनी स्थित आरा मशीन से लकड़ी उठाने को लेकर हुए विवाद ने उग्र रूप ले लिया। इस दौरान दो समुदाय के लोग आमने-सामने आ गए और जमकर लाठी-डंडे चलने के कारण एक समुदाय के 3 लोग घायल हो गए। वही दोनों थानों की पुलिस सीमा विवाद में उलझ गई।

लिसाड़ी गेट थाना क्षेत्र मदीना कॉलोनी निवासी सलमान कार ड्राइवर है, उस पर आरोप है कि रात में सलमान ने अपने घर जाते समय मदीना कॉलोनी स्थित आरा मशीन से कुछ लकड़ी उठा ली। इस दौरान आरा मशीन मालिक के विरोध करने पर सलमान लकड़ी वापस रख कर अपने घर जाने लगा।जिसकी आवाज सुनकर पड़ोस का ही रहने वाला जुबैर मौके पर आया तो पास ही खड़े ब्रह्मपुरी थाना क्षेत्र नूरनगर निवासी विजय ने चार पांच अन्य साथियों के साथ मिलकर जुबैर के साथ मारपीट करनी शुरू कर दी। जुबेर के साथ मारपीट होती देख पड़ोस के रहने वाले मुकर्रम और 50 वर्षीय इस्तियाक जुबेर को बचाने आए तो आरोपियों ने उन दोनों को भी लाठी-डंडों से पीट दिया। इस दौरान तीनों लोग गंभीर रूप से घायल हो गए।

शोर सुनकर दोनों समुदाय के लोग आमने-सामने आ गए सूचना पाकर मौके पर पहुंची लिसाड़ी गेट पुलिस ने दोनों पक्षों को समझा-बुझाकर शांत किया। और घायलों को जिला अस्पताल भेजकर आरोपियों की तलाश शुरू की। इसी दौरान सूचना पाकर ब्रह्मपुरी पुलिस भी मौके पर पहुंच गई और मामले को लिसाड़ी गेट का बताकर पल्ला झाड़ने का प्रयास करने लगी। बाद में घंटों की मशक्कत के बाद लिसाड़ीगेट पुलिस ने जुबैर नाम के युवक को हिरासत में लेकर उपचार के लिए जिला अस्पताल भेज दिया।

सीओ बोले आपसी रंजिश का है मामला
सीओ अरविंद चौरसिया का कहना है की दोनों पक्षों में कहासुनी का मामला हुआ है। कुछ लोग इसे सांप्रदायिक रूप देने का प्रयास कर रहे थे। पुलिस जांच कर कार्रवाई कर रही है।

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here