नगर निगम प्रशासन के विरोध में उतरे डेयरी संचालक, पुलिस प्रशासन में मची खलबली, नगरायुक्त ने की संचालकों संग बैठक

0
94

मेरठ, 11 जून (प्र). शहर से डेयरियों को बाहर करना प्रशासन के गले की फांस बन गया है। न तो प्रशासन कैटल काॅलोनी के लिए भूमि दे पा रहा है और न ही डेयरियों को बाहर करने की हिम्मत जुटा पा रहा है। आज 11 जून से डेयरियों को बाहर करने के लिए नगर निगम अभियान शुरू करने जा रहा है।
वहीं आज सुबह शहर के डेयरी संचालक नगर निगर पहुंचे और शहर में जुलूस निकाला। जानकारी के अनुसार ढेरों डेयरी संचालक निगम प्रशासन के विरोध में उतर आए हैं। डेयरी संचालक शहर के माधवपुरम इलाके से दिल्ली रोड होते हुए अपने पशु और बच्चों के साथ नगर निगम पुलिस अधीक्षक के कार्यालय पर जमा हो गए।
इस पर वहां भारी पुलिस बल पहुंच गया और किसी तरह डेयरी संचालकों को समझाया। डेयरी संचालकों ने नगर निगम और जिला प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। बाद में पुलिस लाईन में नगरायुक्त मनोज चैहान ने डेयरी संचालकों के प्रतिनिधि मंडल से मिले और उनके साथ एक बैठक की। महानगर में 2200 से अधिक डेयरियां हैं। इनमें करीब 50 हजार पशु हैं। डेयरियों से प्रतिमाह सैंकड़ों कुंतल गोबर निकलता है। यह गोबर नालों में बहाया जाता है। जिसके कारण शहर के के सभी नाले चोक रहते हैं। मामला हाईकोर्ट पहुंच गया। हाईकोर्ट ने नगर निगम को 30 जून तक सभी डेयरियों को शहर से बाहर करने के आदेश दिए हुए हैं।

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

five × 2 =