विवि में गठित होगी कुलपति की अध्यक्षता में समन्वय समिति-डिप्टी सीएम

0
730

मेरठ उत्तर प्रदेश के उप मुख्यमंत्री डा0 दिनेश शर्मा ने कहा कि प्रदेश की वर्तमान सरकार शिक्षा के क्षेत्र में तेजी से परिवर्तन ला रही है। उन्होंने कहा कि शिक्षा जगत में पारदर्शिता पूर्ण व्यवस्था लागू की जा रही है।  जिससे शिक्षा की दशा और दिशा में अभूतपूर्व परिवर्तन दिखायी देना शुरू हो गया है। उन्होंनंें शिक्षा को आधनुकिता के परिवेश एवं परिक्षेत्र में  जोड़ने पर बल दिया। मेरठ उत्तर प्रदेश के उप मुख्यमंत्री डा0 दिनेश शर्मा ने कहा कि प्रदेश की वर्तमान सरकार शिक्षा के क्षेत्र में तेजी से परिवर्तन ला रही है। उन्होंने कहा कि शिक्षा जगत में पारदर्शिता पूर्ण व्यवस्था लागू की जा रही है।  जिससे शिक्षा की दशा और दिशा में अभूतपूर्व परिवर्तन दिखायी देना शुरू हो गया है। उन्होंनंें शिक्षा को आधनुकिता के परिवेश एवं परिक्षेत्र में  जोड़ने पर बल दिया।  डा0 दिनेश शमा आज यहा चै0 चरण सिंह विवि  के बृहस्पतिभवन में आयोजित उत्तर प्रदेश में उच्च शिक्षा की दशा और दिशा  संवाद संगोष्ठी को सम्बोधित कर रह थे। उन्होंने कहा कि मा0 मंुख्यंमत्री योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व मंे प्रदेश की परिस्थितियों मंे काफी सुधार आया है।  कानून व्यवस्था एवं विकास कार्यो में तेजी से परिवर्तन आये हैं। उपमुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार नकल विहीन परीक्षा के प्रति दृढसंकल्पित है। परीक्षा केन्द्रों की समीक्षा की जाएगी तथा जहां आवश्यकता हुई वहां परीक्षा केन्द्र भी बदलें जायेगे। उन्होंने कहा कि ऐसे स्कूल कालेज जहां विद्यार्थी नकल करते हुए पाये जायेंगे उस विद्यालय को डिबार कर दिय जाएगा साथ ही उस विद्यालय की मान्यता भी रद्द की जाएगी।  उपमुख्यमंत्री ने कहा कि अगला शैक्षणिक सत्र एनसीईआरटी प्रणाली के तहत चलाया जाएगा, इस सम्बंध में पाठयक्रम तैयारी किया जा रहा है जिससे शैक्षिक स्तर व गतिविधियो मंे परिवर्तन लाया जा सके।  उन्होंने कुलपति सम्मेलन में लिये गये निर्णयों जो 42 बिन्दुओं पर आधारित थे को संकल्प पत्र के रूप में कार्यान्वित करने पर बल दिया। उपमुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश सरकार सुखी मन शिक्षक, तनाव मुक्त विद्यार्थी व गुणवत्तापरक शिक्षा के आधार व मूल मंत्र पर कार्य कर रही है जिससे शिक्षा का स्तर बढेगा, उन्होंने कहा कि शिक्षा की गुणवत्ता से किसी प्रकार का समझौता नहीं किया जाएगा।

उपमुख्यमंत्री ने कहा कि उच्च शिक्षा के स्तर को प्रभावी बनाने हेतु समय से प्रवेश, परीक्षा कराने के साथ ही सभी विवि में दीन दयाल शोध पीठ, ई-लाईब्रेरी, शोधपोर्टल स्थापित किया जा रहा है ताकि शोध छात्र अधिक से अधिक इसका उपयोग कर सके। उन्होंनेे कहा कि शिक्षकों एवं कर्मचारियां के स्थानांतरण, ग्रेच्युटी, फंड, उनके अवशेष के भुगतान, प्रमोशन आदि की प्रक्रिया की कम्प्यूटरीकृत व्यवस्था की जा रही है ताकि उनकी भागदौड़ समाप्त हो और विसंगतियों को दूर किया जा सके। उपमुख्यमंत्री ने कहा कि सभी विवि  में कुलपति की अध्यक्षता में समन्वय समिति गठित करने के निर्देश दिये गये है, जिसमें शिक्षक संघ, कर्मचारी संघ एवं छात्र ंसंघ के प्रतिनिधि होंगे। समिति के सुझाव व विचार बिन्दु से सरकार को अवगत करायी ताकि उच्च शिक्षा के क्षेत्र में अभूतपूर्व परिवर्तन लाया जा सके। उन्होंने कहा कि लिंगदोह कमेटी के अनुसार ही छात्र संघ के चुनाव कराये जा सकते है।  उन्होंने कहा कि सरकार शीघ्र ही माध्यमिक विद्यालयों में शिक्षकों के रिक्त पद जल्द भरे जायेंगें। इस अवसर पर मा0 सांसद राजेन्द्र अग्रवाल, मा0 विधायक मेरठ दक्षिण डा0 सोमेन्द्र तोमर, हस्तिनापुर दिनेश खटीक, कैन्ट सत्य प्रकाश अग्रवाल, पूर्व विधायक अमित अग्रवाल, विनीत शारदा, सुनील भराला,  करूणेश नन्दन गर्ग सहित अन्य अधिकारी गण शिक्षक गण, छात्रगण व प्रबुद्धजन आदि उपस्थित रहे।

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here