आयुक्त ने की मण्डलीय विकास कार्यो की समीक्षा गुणवत्तापरक व समयबद्ध ढंग से पूर्ण हों विकास कार्य-मण्डलायुक्त अप्रैल तक करें चिन्हित ग्रामो को कुपोषण मुक्त-डा0 प्रभात कुमार

0
1038

अब 08 अप्रैल को होगी ग्राम प्रधानों की कार्यशाला-आयुक्त मण्डल के प्रत्येक जनपद में हो 50-50 तालाबों का जीर्णोद्धार-डा0 कुमार

मेरठ 17 मार्च।आयुक्त सभागर में मण्डलीय विकास कार्यो की मा0 मुख्यमंत्री के प्राथमिकता वाले 61 बिन्दुओं की प्रगति के सम्बंध में आहुत समीक्षा बैठक की अध्यक्षता करते हुए आयुक्त डा0 प्रभात कुमार ने विकास कार्यो को गुणवत्तापरक व समयबद्ध ढंग से पूर्ण करने, ग्राम प्रधानों के सहयोग से बंद पड़ी पाईप्ड पेयजल परियोजनाओं को चलाने, चिन्हित ग्रामो को अप्रैल तक कुपोषण मुक्त करने, पात्रों को योजनाओं का लाभ मिले सुनिश्चित करने, मण्डल के प्रत्येक जनपद में 50-50 तालाबों का जीर्णोद्धार व सुदृढीकरण करने, गन्ना किसानों को समय से भुगतान कराने के निर्देश दिये।
आयुक्त ने बताया कि मण्डल के 482 ग्रामों को कुपोषण मुक्त करने का लक्ष्य रखा गया था जिसमें से अभी तक मात्र 68 ग्राम ही कुपोषण मुक्त हो पायें हैं। उन्होंने अधिकारियों को शेष सभी चिन्हित ग्रामों को अप्रैल तक कुपोषण मुक्त करने के निर्देश दिये। उन्होंने मण्डल के प्रत्येक जनपद में 50-50 तालाबों का चिन्हीकरण कर वर्षा ऋतु से पूर्व उनका जीर्णोद्धार व सुदृढीकरण करने के निर्देश दिये।
आयुक्त डा प्रभात कुमार ने प्रधानमंत्री आवास योजना शहरी व गा्रमीण में मानकों के अनुसार मकान बने यह सुनिश्चित करने तथा राष्ट्रीय ग्रामीण पेयजल मिशन के अन्तर्गत बंद पड़ी परियोजनाओं को ग्राम प्रधान के सहयोग से चलवाने के लिए मुख्य विकास अधिकारियों को निर्देशित किया। उन्होंने गन्ना किसानों के गन्ना मूल्य का भुगतान समय से कराने के निर्देश दिये।
उन्होंने स्वच्छ भारत मिशन (नगरीय) व अन्य ऐसे कार्यक्रमों में जिसमें कोई मण्डल स्तरीय अधिकारी नहीं है के लिए एक अधिकारी को नोडल अधिकारी नामित करने के निर्देश संयुक्त विकास आयुक्त को दिये ताकि विकास कार्यो की बैठक में वह मण्डल की प्रगति प्रस्तुत कर सके।
आयुक्त ने अधिकारियों को निर्देशित किया कि 22 मार्च के बाद छात्रवृत्ति विद्यार्थियों के खातों में पहुंच जानी चाहिए। उन्होंने महिला हेल्पलाइन 181 का व्यापक प्रचार प्रसार कर महिलाओं की समस्याओं का निस्तारण करने व उनकी हर सम्भव मदद करने के निर्देश दिये।
आयुक्त ने बताया कि निर्मल हिंडन अभियान से सम्बंधित मेरठ व सहारनपुर मण्डल के सातों जनपदों के ग्राम प्रधानों की कार्यशाला का आयोजन 18 मार्च को किया जाना प्रस्तावित था। 18 मार्च से नवरात्र प्रारम्भ होने व महिलाओं के अधिक संख्या में ग्राम प्रधान होने के कारण कार्यशाला का आयोजन अब आगामी 08 अप्रैल को किया जाएगा तथा इसके लिए सुभारती विवि से वार्ता कर वहां कार्यशाला का आयोजन किये जाने पर विचार किया जा रहा है।
संयुक्त विकास आयुक्त एबी मिश्रा ने बताया कि बैठक में मनरेगा,,नई सड़को के निर्माण, अर्मत योजना, अपशिष्ठ प्रबंधन, सर्व शिक्षा अभियान, ग्रामों का उर्जीकरण, खाद बीज की आपूर्ति, पारदर्शी किसान योजना, गेंहू खरीद व फसली ऋण मोचन योजना आदि बिन्दुओं पर विस्तार से चर्चा की गयी व आयुक्त द्वारा आवश्यक दिशा निर्देश अधिकारियों को दिये गये।
इस अवसर पर डीएम मेरठ अनिल ढंीगरा, गौतमबुद्धनगर बीएन सिंह, बुलन्दशहर डा0 रोशन जैकब, बागपत ऋषिरेन्द्र कुमार, गाजियाबाद रितु माहेश्वरी, सीडीओ मेरठ आर्यका अखौरी, बागपत चांदनी सिंह, हापुड़ दीपा रंजन, गाजियाबाद रमेश रंजन आदि सम्बंधित अधिकारी उपस्थित रहे।

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here