निवर्तमान आयुक्त डा0 प्रभात का कमिश्नरी में हुआ विदाई समारोह

0
652

मेरठ। मण्डल में अपनी कार्यप्रणाली, ईमानदारी, कर्मठता व व्यवहार कुशलता से आमजन में छाप छोड़ने वाले निर्वतमान आयुक्त डा0 प्रभात कुमार का विदाई समारोह आयुक्त सभागार में सम्पन्न हुआ। इस अवसर पर जिलाधिकारी, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सहित विभिन्न प्रशासनिक अधिकारीगण, आमजन, गणमान्य लोग व कमिश्नरी के कर्मचारीगण आदि उपस्थित रहे। सभी वक्ताओं ने डा0 प्रभात कुमार की कार्यप्रणाली की एक स्वर में प्रशंसा की व उनके द्वारा दिखाये गये मार्ग पर चलने का संकल्प लिया। इस अवसर पर एमडीए व कमिश्नरी कर्मचारी गण द्वारा निर्वतमान आयुक्त को स्मृति चिन्ह के रूप में गणेश प्रतिमा भेंट की गयी।
निवर्तमान आयुक्त डा0 प्रभात कुमार ने कहा कि वह इस अवसर पर अपने आप को भावुक महसूस कर रहे है उन्होंने कहा कि इंसान जहां रहता है व कार्य करता है उसका उस जगह से लगाव हो जाता है इसलिए मेरठ से उनका लगाव हमेशा बना रहेगा तथा वह यहां शासकीय कार्यो व उनके द्वारा प्रारम्भ किये गये कार्यो को देखने के लिए समय समय पर आते रहेंगे। उन्होंने अपने मेरठ कार्यकाल के दौरान हुए प्रसंगों को संाझा किया।
उन्होंने कहा कि श्रीमदभागवत गीता में उनकी आस्था है उन्होंने कहा कि मनुष्य का पुर्नजन्म होता है और उसके द्वारा किये गये कर्म उसको अगले जन्म में भोगने पड़ते है इसलिए हमें अच्छे कर्म करने चाहिए। उन्होंने अधिकारियों को जनता के हित में कार्य करने के लिए प्रेरित करते हुए कहा कि भगवान ने अपने हाथ हमें दिये है ताकि हम उसकी कृपा का जनता मे वितरण कर सके।
उन्होंन कहा कि प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के ह्दय में आमजन के लिए असीम प्रेम है तथा वह उनके हितार्थ अनेंकों कार्य कर रहें हैं। उन्होंने कहा कि 14 माह के कार्यकाल में उनके पास मुख्यमंत्री कार्यालय से किसी व्यक्ति विशेष का कोई कार्य करने के लिए सिफारिश या दबाव के लिए कोई फोन नहीं आया।
उन्होंने अधिकारियों से कहा कि वह सेवानिवृत्त व वर्तमान कर्मचारियों के देयों का भुगतान कराना अपनी जिम्मेदारी समझे तथा सम्भव हो तो उनके व्यक्तिगत परिशानियों में भी उनकी मदद करें। उन्होंने मीडिया द्वारा दिये गये सहयोग के लिए मीडिया का भी आभार व्यक्त किया।
वक्ताओं में जिलाधिकारी अनिल ढींगरा ने कहा कि आयुक्त ने अपनी कार्यशौली से मिसाल कायम की है तथा हमेशा उनका मनोबल बढाया है। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने कहा कि आयुक्त की कार्यप्रणाली से वह हमेशा प्रभावित रहे है।
अपर आयुक्त आर0एन0 धामा ने कहा कि आयुक्त के आने से पहले कमिश्नरी को लोग पुलिस लाइन के रूप में जानते व मानते थे आयुक्त के आगमन व उनकी कार्यप्रणाली देखने के बाद लोग कमिश्नरी को जान गये है। सचिव एमडीए ने कहा कि कमिश्नर से सिखाया है कि अच्छे दिल से कार्य करोगे तो कभी बुरा नहीं होगा।
इस अवसर पर उपाध्यक्ष एमडीए साहब सिंह, अपर आयुक्त जयशंकर दूबे, साख्यिकी अधिकारी एसपी नैन, एस0के0 दीक्षित आदि ने भी अपने विचार व्यक्त किये।
इस अवसर पर अपर आयुक्त जय शंकर दूबे, अनीता सिंह, संयुक्त निदेशक अभियोजन जितेन्द्र देव मिश्रा सहित अन्य अधिकारी, कर्मचारी, आमजन व गणमान्य नागरिक उपस्थित रहे।

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here