राष्ट्रीय बालिका दिवस पर चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय स्थित बृह्स्पति भवन में बालिकाओं का किया गया सम्मान

0
44

मेरठ 24 जनवरी (सू0वि0)। आज महिला कल्याण विभाग, मेरठ द्वारा चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय स्थित बृह्स्पति भवन में राष्ट्रीय बालिका दिवस पर बालिकाओं का सम्मान किया गया। कार्यक्रम का प्रारम्भ मुख्य अतिथि डा0 सोमेन्द्र तोमर, मा0 राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार), ऊर्जा विभाग, श्री शशांक चौधरी, मुख्य विकास अधिकारी, मेरठ, श्री विनीत कुमार, जिला कार्यक्रम अधिकारी, मेरठ, श्री अजित कुमार जिला प्रोबेशन अधिकारी, मेरठ द्वारा मां सरस्वती के चित्र के समक्ष दीप प्रज्जवलित कर किया गया। कार्यक्रम में अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर ख्याति प्राप्त करने वाली 05 महिला खिलाडियों, कक्षा 10 में सर्वोत्तम अंक प्राप्त करने वाली 5 छात्राओं को सम्मानित किया गया व मुख्यमंत्री बालसेवा योजना के 105 लाभार्थियों को लैपटॉप वितरित किये गये।

मा0 मन्त्री जी द्वारा बेटी बचाओ बेटी पढाओ की शपथ दिलाते हुए कहा गया कि मातृ श्क्ति सनातन काल से ही सशक्त है, जरूरत है तो केवल उसको जागृत करने की उन्होने कहा कि प्राचीन काल से ही हमारे देश में महिलाओं को सभी अधिकार दिये गये है परन्तु उनको आज उनकी श्क्ति को याद दिलाने की आवश्यकता है। महिलाओं और बच्चियों के लिए इतना सुरक्षित वातावरण बनाना है कि यदि रात को देर हो जाए तो परिजन को कोई अप्रिय घटना होने का सन्देह न हो। उन्होंने कहा कि आज स्वयं सहायता समूह के माध्यम से गाँव की महिलाएं घर बैठे ही स्वावलम्बी हो रही है।

कार्यक्रम में मुख्य विकास अधिकारी श्री शशांक चौधरी द्वारा कहा गया कि आज महिलांए हर क्षेत्र में आगे बढ रही है अगर हम किसी प्रतियोगी परीक्षा को देखे तो उसमें अधिकाँश महिलाएं टॉपर होती है तो यह कहना उचित होगा कि महिलाओं को अवसर प्रदान करने की आवश्यकता है महिलाए ंकिसी भी क्षेत्र में कमजोर नहीं है। अभी जनपद मेरठ का लिंगानुपात 957 है हम तब तक शान्त नहीं रहेंगे जब तक इस अनुपात को बराबर न किया जाये।

जिला कार्यक्रम अधिकारी श्री विनीत कुमार द्वारामहिलाओं व बालकोंको प्रत्साहित करने वाले विभिन्न कार्यक्रमों का विवरण देते हुए विभिन्न कार्यक्रमों व अभियानों के बारे में बताया व साथ ही कहा कि महिलाओं को बचपन से ही पोषण की आवश्यकता है। इसी क्रम में आंगनबाडी कार्यकर्ता श्रीमती पारूल द्वारा महिला सशक्तिकरण पर कविता प्रस्तुत की गयी।

अन्त में जिला प्रोबेशन अधिकारी, श्री अजित कुमार द्वारा कार्यक्रम में उपस्थित सभी लोगों से अनुरोध किया गया कि यदि किसी को कोई समस्या हो बेझिक हमें बताये परन्तु बच्चियों के भविष्य बाधित न होने दें, हमारे द्वारा समस्या के निराकरण हेतु पूर्ण प्रयास किया जायेगा। मंच का संचालन डॉ0 श्रीती सगर, विधि सह-परिवीक्षा अधिकारी द्वारा कियागया। कार्यक्रम में मुख्य विकास अधिकारी, जिला कार्यक्रम अधिकारी, जिला प्रोबेशन अधिकारी, जिला बाल संरक्षण इकाई के समस्त कार्मिक उपस्थित रहे।

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here