गुना: तीन पुलिसकर्मियों की हत्या, मृतकों के परिजनों को एक-एक करोड़ देने की घोषणा; सीएम ने ग्वालियर आईजी को तत्काल प्रभाव से हटाया

0
73

भोपाल. काले हिरण के शिकारियों ने गुना में तीन पुलिसकर्मियों की हत्या कर दी. इस घटना पर मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने जबरदस्त रोष व्यक्त किया है. उन्होंने घटनास्थल पर पहुंचने में देर करने वाले ग्वालियर आईजी अनिल शर्मा को तत्काल हटा दिया. इस घटना पर गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने भी आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई के निर्देश दिए. ये घटना गुना जिले के पास आरोन इलाके में हुई. सरकार ने मृतक पुलिसकर्मियों के परिजनों को एक-एक करोड़ देने की घोषणा की है.

इस घटना पर शोक जताते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट किए- ‘गुना में शिकारियों का मुकाबला करते हुए हमारे पुलिस के जवानों ने शहादत दी है. अपराधियों के खिलाफ ऐसी कार्रवाई होगी, जो इतिहास में उदाहरण बनेगी. अपराधियों की लगभग पहचान हो गई. जांच चल रही है. पुलिस फोर्स को भेजा गया है. अपराधी किसी भी कीमत पर नहीं बचेंगे.’

सीएम ने ट्वीट किया- ‘पुलिस के साथी राजकुमार जाटव, नीरज भार्गव, संतराम को शहीद का दर्जा देकर इनके परिवार को एक-एक करोड़ रुपये सम्मान निधि दी जायेगी. परिवार के एक सदस्य को शासकीय सेवा में लिया जाएगा. पूरे सम्मान के साथ इनका अंतिम संस्कार होगा. घटना के बाद घटनास्थल पर पहुंचने में विलंब करने पर मैंने ग्वालियर के आईजी को तत्काल हटाने का फैसला लिया है.

वहीं, गुना एसपी राजीव कुमार मिश्रा ने घटना की पुष्टि की. उन्होंने बताया कि पुलिस को सूचना मिली थी कि बदमाश सगा बरखेड़ा की तरफ से आ रहे हैं. सूचना मिलते ही पुलिस की 4 टीमें बनाई गईं और बदमाशों की घेराबंदी की गई. इस बीच पुलिस टीम ने शहरोक के जंगल में 4-5 बाइक से बदमाशों को जाते हुए देखा. पुलिस ने जैसे ही उन्हें घेरा तो उन्होंने गोलियां चलाना शुरू कर दिया. पुलिस ने भी जवाब में फायरिंग की.

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here