हाय रे बेरोजगारी: संविदा पर चपरासी की नौकरी के लिए पहुंचे एमए पास

0
280

मेरठ, 23 अक्टूबर (प्र) आठवीं पास योग्यता और पद चपरासी का। वह भी पूरी तरह संविदा पर। सैलरी कुछ हजार रुपये, लेकिन चौधरी चरण सिंह विवि कैंपस में चपरासी के इन छह पदों पर भर्ती के लिए 192 आवेदक पहुंचे। यानी चपरासी के एक पद पर 32 आवेदक नौकरी पाने की उम्मीदों के साथ इंटरव्यू में पहुंचे। चैंकाने वाली बात यह है कि ये सभी आवेदक 10वीं से लेकर एमए पास थे।
कोरोना काल में बेरोजगारी और नौकरी पाने के लिए लगी लाइन की यह बानगीभर है। चै. चरण सिंह विवि कैंपस में काॅमर्स, संस्कृत, ब्वाॅयज हाॅस्टल और अर्थशास्त्र में चपरासी के लिए छह पदों पर आवेदन मांगे गए। इंटरव्यू हुए।

कुल पदों में से दो एससी, एक अनारक्षित और एक ओबीसी के लिए तय है। छह पदों पर कुल 192 उम्मीदवार पहुंचे। इसमें से 100 आवेदक एससी, 48 ओबीसी और 44 सामान्य वर्ग से थे। यानी एससी में प्रत्येक पद पर 33, ओबीसी में 48 और अनारक्षित में 44 दावेदार रहे। प्रत्येक पद पर औसत दावेदारी 32 अभ्यर्थियों की रही। आवेदकों में 22 महिला अभ्यर्थी भी शामिल रहीं। विवि प्रशासन के आंकड़ों के अनुसार इंटरव्यू के लिए न्यूनतम योग्यता आठवीं पास थी, लेकिन एमए पास छात्र भी इसमें शामिल हुए। इंटरव्यू में शामिल आवेदक दसवीं पास या इससे अधिक थे। कैंपस में ये सभी पद संविदा पर हैं और सेलरी कुछ हजार रुपये रहेगी।

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

thirteen + seventeen =