होटल- बैंकट-मैरिज हाॅल- रिसाॅर्ट व गेस्ट हाउस 15 दिन के अन्दर ऑनलाईन पंजीकरण कर अनापत्ति प्रमाण-पत्र प्राप्त करना करें सुनिश्चित, अन्यथा की जायेगी कार्यवाही-जिलाधिकारी

0
46

मेरठ 26 सितंबर (सू0वि0)। जिलाधिकारी/अध्यक्ष जिला भूगर्भ जल प्रबन्धन परिषद ने बताया कि मा0 राष्ट्रीय हरित अधिकरण नई दिल्ली (एन0जी0टी0) के आदेश के अनुपालन कराने हेतु गठित समिति द्वारा स्थलीय निरीक्षण में 92 होटल, बैंकट, मैरिज हाॅल, रिसाॅर्ट व गेस्ट हाउस (सूची के अनुसार) द्वारा बोरबेल के माध्यम से भूगर्भ जल दोहन किया जाना पाया गया। आपको नोटिस पत्रांक-392/भू0ज0वि0जि0स0ख0 मेरठ/अधि019, दिनांक-07.09.2022 के द्वारा उत्तर प्रदेश भूगर्भ जल (प्रबन्धन एंव विनियमन) अधिनियम-2019 के निहित प्राविधानो के अनुसार भू-गर्भ जल दोहन के सम्बन्ध में आवश्यक उपकरण व अन्य मानको की पूर्ति करते हुए, 15 दिन के अन्दर आॅनलाईन पंजीकरण कराने हेतु निर्देशित किया गया था, परन्तु आज तक आप द्वारा उत्तर प्रदेश भूगर्भ जल (प्रबन्धन एंव विनियमन) अधिनियम-2019 के अन्तर्गत एनओसी/अनापत्ति प्रमाण-पत्र हेतु आवेदन नही किया गया हैं। आपको अन्तिम चेतावनी दी जाती है कि 15 दिवस के अन्दर https://niveshmitra.up.nic.in/ पर कराते हुए एनओसी/अनापत्ति प्रमाण-पत्र प्राप्त करना सुनिश्चित करें। अन्यथा की स्थिति में आपके विरूद्ध नियमानुसार कार्यवाही की जायेगी।

आॅनलाईन पंजीकरण में किसी भी कठिनाई के सम्बन्ध में श्री आदित्य कुमार पाण्डेय, सीनियर जियोफिजिसिस्ट, भूगर्भ जल विभाग, खण्ड-मेरठ पताः-बी-371, गंगानगर-मेरठ से एंव http://upgwdonline.in पर सम्पर्क किया जा सकता है ।

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here