कमिश्नर व वीसी दे ध्यान, जोन डी 1 व डी 4 में अधिकारियों के शय पर हो रहे है अवैध निर्माण, कपड़ा व्यवसायी के यहां दो बार सील लगाने के हुए आदेश को पचा गये जोन प्रभारी

0
153

मेरठ 5 मार्च। मेरठ विकास प्राधिकरण की अध्यक्ष व आयुक्त अनीता सी मेश्राम तथा एमडीए के उपाध्यक्ष राजेश कुमार पाण्डेय के अवैध निर्माणों के खिलाफ सख्त कार्यवाही के निर्देशों के बाबजूद भी जोनल अधिकारी अवैध निर्माणों को संरक्षण देने में लगे हैं, वहीं मेरठ विकास प्राधिकरण के जोन- डी 1 व डी 4 में अवैध निर्माण जोनल अधिकारियों के संरक्षण में चल रहे हैं, जोन-डी 1 में सूरज कुण्ड रोड पर कपड़ा व्यवसायी का अवैध काॅम्प्लेक्स बन रहा है, वहीं डी 4 में भी क्षेत्र के अवर अभियन्ता वेदप्रकाश अवस्थी तथा जोनल अधिकारी के बीच हुई सांठगांठ चलते होते सीएमओ कार्यालय के पास, साकेत में फ्लेटों का निर्माण तथा जेलचुंगी व प्रभात नगर में निर्माणाधीन फ्लेट व अवैध निर्माण अधिकारियों के संरक्षण में चल रहे हैं, बताया जाता है कि जोनल व नोडल अधिकारी धीरज सिंह को अवैध निर्माणों की जानकारी है, इसके बाबजूद वह अवैध निर्माणों पर कार्यवाही करने तथा सील लगाने की प्रक्रिया से लगातार देरी कर रहे है। नागरिक को सोचने पर मजबूर कर रहा है, जिसके चलते प्रदेश सरकार की छवि को ऐसे इंजीनियर व अधिकारी धूमिल करने में लगे हैं, क्योकि जोन-डी जोनल अधिकारी व सहायक अभियन्ता धीरज सिंह अवैध काॅम्प्लेक्स पर सील लगाने से लगातार बच रहें है, और अवैध काम्प्लेक्स बनाने वालो को अपना संरक्षण देने में लगे हैं, इसका उदाहरण जोन-डी 1 में कपड़ा व्यवसायी के अवैध निर्माण से देखा जा सकता है, जहां तीन बार सील के आदेश होने के बाबजूद, थाने से फोर्स न मिलने की बात कह कर सील की कार्यवाही को अंजाम नहीं दिया गया। सूत्र बताते हैं कि इस कपड़ा व्यवसायी के अवैध निर्माण पर 5 मार्च को सील की कार्यवाही नियत है मौखिक सूत्रों की माने तो जिन अवैध निर्माणों पर जोनल को सील लगानी होती है वहां थाने की फोर्स की मौजूदगी के बिना पीआरडी के जवानों व सचल दस्ते को ले जाकर भी प्राधिकरण सील की कार्यवाही को अंजाम दे देता है, लेकिन ऐसा वहां होता है जहां जोनल अफसर का अवैध निर्माण करता को संरक्षण नहीं होता। – दैनिक केसर खुशबू टाईम्स से सहभार

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

17 − twelve =