डाॅ. सरोजनी के घर के पास सड़कों के किनारे पड़े कूड़े के ढेर से नागरिक है परेशान कहा है स्वच्छता अभियान चलाने वाले नगर निगम के अधिकारी

0
100

मेरठ 15 मई। शहर में आये दिन स्वच्छता अभियान चलाये जा रहे है अधिकारी बैठके कर सफाई होने के दावे कर रहे है 4 जून से मानसून आने की चर्चा है मगर लगता है की नगर निगम के स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को उस दौरान नालों में बरसात का पानी भर जाने और गदंगी सड़क पर बहने तथा उससे आम आदमी को उत्पन्न होने वाली बिमारियों का कोई संज्ञान या तो है नही या वो लेना नही चाहते क्योकि शहर के ज्यादातर नाले गंदगी से लबालब भरे पड़े है और अगर कही सफाई हो भी जाये तो कूड़ा उठवाने की इन्हे फुरसत नही होती। परिणाम स्वरूप नाले से निकली गंदगी आने जाने वाले नागरिकों के लिए बीमारी का कारण बन रही है। चित्र में भाजपा की विधान परिषद सदस्य डाॅ. सरोजनी अग्रवाल के घर से थोड़ा आगे कचहरी मार्ग पर नाले से निकले गदंगी के ठेर ओर इनसे उठने वाली बदबू तथा हवा के साथ उड़ने वाले कूड़े ने राहगीरों का यहां से निकलना मुश्किल कर दिया है और यहां के निवासी तो इस गंदगी में रहने के लिए मजबूर है लोग पूछते है की आखिर स्वच्छता अभियान चलाने वालों को यह सड़क क्यो नजर नही आ रही है और नगर निगम का स्वास्थ्य विभाग इस ओर से आंखे क्या मूंदे बैठा है।

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

one × one =