पउप्र में पर्यटन विकास की अपार संभावनाएंः रीता बहुगुणा

0
1023

मेरठ 8 जनवरी। प्रदेश की महिला कल्याण, परिवार कल्याण, मातृ शिशु कल्याण और पर्यटन मंत्री रीता बहुगुणा जोशी ने यहां विश्वामित्र की तपोभूमि गगोल तीर्थ परिसर में आयोजित कार्यक्रम में कहा कि पश्चिमी उत्तर प्रदेश में पर्यटन विकास की अपार संभावनाएं हैं। पर्यटन केन्द्रों का विकास कराने से भारतीय सांस्कृतिक और ऐतिहासिक
धरोहरों का बेहतर संरक्षण होगा। वहीं नौजवानों के लिए नये रोजगार भी सृजित होंगे। साथ ही उन्होंने गगोल तीर्थ के विकास को दस लाख रुपये मंजूर किये जाने की घोषणा की।काबीना मंत्री रीता बहुगुणा जोशी ने कहा कि मौजूदा राज्य सरकार बिना किसी भेदभाव के सबका साथ सबका विकास फार्मूले पर काम कर रही हैं। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के हृदय में मेरठ का दर्द भी है ओर वह किसान और नौजवान के उत्थान के लिए तत्पर हैं। उन्होंने कहा कि 2014 में केन्द्र में एनडीए की सरकार बनी तभी से देश में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में सरकार आर्थिक सुधार कर रही है। पर्यटन के लिहाज से देश में यूपी दूसरे पायदान पर है। पर्यटन में सबसे ज्यादा संभावनाएं धार्मिक स्थलों पर है।
रामायण सर्किट, कृष्ण सर्किट और बौद्ध सर्किट के अलावा अयोध्या व चित्रकूट में पर्यटन विकास के लिए लगभग 600 करोड़ रुपये की परियोजनाएं स्वीकृत हुई हैं और इन पर काम हो रहा है। उन्होंने कहा कि पउप्र मेहनतकश लोगों का है। यहां के वाशिंदे पसीना बहाकर रोटी कमाते हैं। इस क्षेत्र में पहले गन्ना उपत्पादक किसानों को बकाया गन्ना भुगतान पाने के लिए आंदोलन करना पड़ता था। लगभग दस माह के कार्यकाल में योगी सरकार ने गन्ना, आलू, गेंहू, धान उत्पादक किसानों के आर्थिक उत्थान पर खोस किया है इसके सकारात्मक परिणाम सामने आये हैं। पिछली सरकारों में सत्ताधीश 22 चीनी मिले कोड़ियों के भाव बेचकर चले गये योगी सरकार ने इनमें कई चीनी मिलों में पेराई सत्र शुरू कराया है।
साथ ही उन्होंने कहा कि हमारी सरकार ने एन्टी रोमियों का गठन कर महिलाओं के साथ छेड़खानी पर अंकुश लगाने की पहल की। हैल्पलाइन 181 के तहत हर जिले में रेसक्यू वैन उपलब्ध करायी। रेसक्यू वैन बीमार, दहेज उत्पीडन व घरेलू हिंसा की शिकार महिलाओं के लिए मददगार साबित हो रही है।

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here