लापरवाही बरतने पर दिये तीन एमओआईसी को चेतावनी जारी करने के निर्देश

0
178

मेरठ, 21 नवंबर (सूवि)। प्रमुख सचिव, चिकित्सा स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण उप्र शासन आलोक कुमार ने विकास भवन मंे स्वास्थ्य विभाग के चिकित्सको के साथ बैठक करते हुए कहा कि कोरोना नियंत्रण के लिए सर्विलांस, कान्ट्रेक्ट ट्रेसिंग व उपचार तीन मुख्य कारक है।उन्होने कान्टेªक्ट ट्रेसिंग आदि कार्यों में लापरवाही बरतने व अपेक्षा अनुरूप कार्य न करने पर तीन एमओआईसी को चेतावनी जारी करने व एक सप्ताह में सुधार न होने पर उनके निलंबन के लिए कहा।

प्रमुख सचिव स्वास्थ्य आलोक कुमार ने कहा कि मरीज को देर से मेडिकल रेफर करना व देर से उसकी कोरोना जांच कराना दोनो से उसके स्वास्थ्य पर प्रतिकूल असर पड सकता है। जिलाधिकारी के0 बालाजी ने जनपद में किये गये कोरोना संबंधी कार्यों की प्रगति के संबंध में प्रकाष डालते हुये बताया कि जनपद में कोरोना मरीजो के उपचार के लिए बैड की कमी नहीं है। इस अवसर पर आयुक्त अनीता सी0 मेश्राम, सीडीओ ईषा दुहन, एडीएम वित्त सुभाष चन्द्र प्रजापति, केजीएमयू के डा0 सूर्यकान्त त्रिपाठी, एसजीपीजीआई के डा0 संदीप कुबा, अपर निदेषक स्वास्थ्य डा0 रेनू गुप्ता, सीएमओ डा0 राजकुमार, एसीएमओ डा0 पूजा शर्मा, डा0 अषोक तालियान, डा0 पी0पी0 सिंह सहित अन्य चिकित्सक व अधिकारीगण उपस्थित रहे।

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

20 − nineteen =