प्रदेश के 18 मंडलों में सफल प्रथम अपीलीय अधिकारियों के प्रशिक्षण उपरांत आज दूसरे चरण के प्रशिक्षण का मुख्य सूचना आयुक्त ने किया उदघाटन

0
658

मेरठ 18 सिंतबर। जनसूचना अधिकार प्रथम अपीलीय अधिकारियों के प्रशिक्षण शिविर में जनसूचना अधिकार के तहत मांगी जाने वाली सूचनाओं से जुड़े बिंदुओं की विस्तार से मुख्य जनसूचना आयुक्त उप्र0 श्री जावेद उस्मानी द्वारा विस्तार से जानकारी दी गयी। दूसरे चरण के 18 से 23 तक मंडल के छः जिलों के चलने वाले प्रशिक्षण के संदर्भ में कचहरी स्थित जिलाधिकारी के सभाकक्ष में मुख्य जनसूचना आयुक्त ने पत्रकारों को जनसूचना के अधिकार नियम 2005 के तहत सूचना उपलब्ध कराने से सबंध जानकारियां विस्तार से दी। श्री जावेद उसमानी ने बताया की जनसूचना अधिकार 2005 से सबंध तीन धाराओं आठ नौ, चोबीस व नियम चार में सूचना देने से जनसूचना अधिकारी किसी भी विभाग का मना कर सकता है।

पत्रकारों द्वारा पूछे गये प्रश्नों के उतर में मुख्य जनसूचना आयुक्त ने कहा की अभीतक प्रदेश के 18 मंडलों में जनसूचना व प्रथम अपीलीय अधिकारियों का प्रशिक्षण का पहला राउड पिछले वर्ष पूरा हो चुका है।

आज यहां दूसरे राउड के प्रथम चरण की ट्रेनिंग की शुरूआत हुई है जो आज से 23 सिंतबर तक चलेगी और हर दिन अलग अलग जिले से आये जनसूचना व प्रथम अपीलीय अधिकारियों को उनकी जिम्मेदारियों का एहसास कराते हुए सूचना मांगने वाले को नियम से बिना किसी परेशानी के सूचना देने के बारें में उनकी जिम्मेदारियों का एहसास कराया जायेगा।

एक प्रश्न के उतर में मुख्य जनसूचना आयुक्त जावेद उस्मानी साहब का कहना था की अगर किसी भी विभाग का जनसूचना अधिकारी सूचना देने से मना करता है या परेशान करता है तो उसकी अपील हमारे यहां कीजिए तुरंत कानूनी कार्यवाही की जायेगी।

एक अन्य प्रश्न के उतर में उन्होने माना की यह सही है की एक एक व्यक्ति काफी काफी मामलों में सूचना मांग रहा है जो इस नियम का दुरूपयोग कहा जा सकता है इसें रोकने के प्रयास के साथ ही यह तय करने की कोशिश की जा रही है कि जनसूचना अधिकारी नियमानुसार जानकारी दे और अपनी जिम्मेदारियों का निर्वाह करे।

एक अन्य प्रश्न के उतर में उन्होने बताया की जो जुर्माना जनसूचना अधिकारियों पर समय से सूचना ना देने पर लगता है वो उनकी तन्ख्वाह से काटा जाता है। कुल मिलाकर आज का जनसूचना प्रथम अपीलीय अधिकारीयों का दूसरा प्रशिक्षण की शुरूआत काफी सफल रही। प्रेस सम्मेलन में मुख्य सूचना आयुक्त के साथ राज्य सूचना आयुक्त राजकेश्वर सिंह तथा एडीएम वित आनंद शुक्ला और सिटी मजिस्ट्रेट एमपी सिंह आदि विशेष रूप से मौजूद थे।

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here