अंतिम अरदास में लखीमपुर खीरी जा रहे जयंत चौधरी गिरफ्तार, कार्यकर्ताओं में फैला आक्रोश

0
190

मेरठ, 12 अक्टूबर (प्र) लखीमपुर खीरी में आयोजित अंतिम अरदास में भाग लेने जा रहे रालोद अध्यक्ष जयंत चौधरी को उत्तर प्रदेश सरकार ने बरेली में गिरफ्तार किया गया है। इसकी रालोद कड़ी भर्त्सना करता है। रालोद के मीडिया कॉर्डिनेटर सुरेन्द्र शर्मा ने एक बयान जारी कर कहा है कि यह सरकार का अमानवीय व अलोकतांत्रिक तरीका है। संविधान के अधिकार के तहत कोई भी व्यक्ति किसी के भी दुख दर्द में शरीक हो सकता है लेकिन भाजपा सरकार ने न केवल लोकतांत्रिक मूल्यों की धज्जियां उड़ाई हैं बल्कि सामाजिक ताने-बाने को भी तार-तार किया है।

उन्होंने कहा कि इस सरकार में सामाजिक समरसता को भी छिन्न भिन्न किया है। मानव सामाजिक प्राणी है उसे समाज में खुशी एवं दुख में शामिल होने का अधिकार है तभी हमारा भाईचारा कायम रहता है। उन्होंने कहा कि रालोद सुप्रीमो जयंत चौधरी लखीमपुर खीरी में शहीद हुए किसानों, मीडियाकर्मी तथा अन्य लोगों को अपनी श्रद्धासुमन अर्पित करने जा रहे थे लेकिन प्रदेश सरकार ने यह अलोकतांत्रिक रवैया अपनाते हुए उन्हें गिरफ्तार कर लिया और मानव मूल्यों का नष्ट करने का षडयंत्र रचा है। श्री शर्मा ने कहा रालोद की आशीर्वाद पथ यात्रा की अंगड़ाई को देखकर ही सरकार के पैर उखड़ने शुरू हो गए हैं। भाजपा सरकार महसूस करने लगी है कि अब उसका सत्ता में बना रहना संभव नहीं है। इसलिए उन्होंने अलोकतांत्रिक तरीके अपनाने शुरू कर दिए हैं। सरकार का जाना निश्चित है।

मेरठ जोन के रालोद अध्यक्ष यशवीर सिंह ने भी रालोद सुप्रीमो की गिरफ्तारी पर गहरी नाराजगी व्यक्त करते हुए सरकार की निंदा की है। उन्होंने कहा कि सरकार का यह रवैया न्यायोचत नहीं है, इससे तो स्थिति संभलने के स्थान पर बिगड़ेगी।

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

2 + 14 =