बहुजन समाज के अधिकारों पर कुठाराघात को सहन नहीं करेंगें : लक्ष्य

0
748

लक्ष्य की महिला टीम द्वारा ” बहुजन भागीदारी आंदोलन” अभियान के तहत महिलाओ के लिए एक कैडर कैम्प लक्ष्य कमांडर मंजुलता आर्या के निवास स्थान लखनऊ के जानकीपुरम में किया गया | जिसमे बहुजनो की भागीदारी को लेकर विस्तार से चर्चा की गई और 8 अप्रैल को लखनऊ में लक्ष्य दुवारा आयोजित ” बहुजन भागीदारी महारैली” को सफल बनाने पर भी चर्चा की गई और जिसमे लक्ष्य महिला कमांडरों ने एक स्वर में इस महारैली को सफल बनाने के लिए आवाज बुलंद की |

लक्ष्य कमांडर मंजुलता आर्या ने कहा कि लक्ष्य देश में पहला संगठन है जहाँ पर महिलाओ को नेतृत्व करने का अवसर दिया जा रहा है और इस महारैली का नेतृत्व भी महिलाये ही करेंगी | उन्होंने कहा कि जब भी महिलाओ को अवसर दिया गया तो उन्होंने अपनी ताकत का लोहा मनवाया है जिसका एक बहुत बड़ा उद्धारण माता सावत्री बाई फुले व् 21 वी सदी में बहन मायावती है जिनको विश्व में एक मजबूत शासन के लिए आयरन लेडी के नाम से जाना गया जोकि महिलाओ के लिए विशेषतौर से बहुजन समाज की महिलाओ के लिए एक गर्व की बात है और उनसे हमें भी प्रेरणा और ताकत मिलती है |

लक्ष्य कमांडर रेखा आर्या ने बहुजन समाज के अधिकारों पर हो रहे कुठराघात पर दुःख प्रकट किया और लोगो को सचेत करते हुए कहा कि अगर हम लोग अभी नहीं जगे तो कभी भी नहीं जग पाएंगे और भविष्य में बहुजन समाज को और अधिक अंधकार का सामना करना पड़ेगा | उन्होंने कहा कि हमें इस रैली को सफल बनाने के लिए कोई कसार नहीं छोड़नी चाहिए |

लक्ष्य कमांडर मुन्नी बौद्ध ने अभी हाल ही में एस.सी./ एस.टी. एक्ट में किया गया बदलाव पर दुःख प्रकट करते हुए कहा कि दूषित मानशिकता वाले लोग नहीं चाहते कि हजारो वर्षो से दबाये गए बहुजन समाज को मानवीय जीवन मिले | उन्होंने कहा कि लक्ष्य अपने अधिकारों का हनन नहीं होने देगा चाहे उसके लिए हमें कोई भी कीमत क्यों न चुकानी पड़े |

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here