जनपद के विकास में सहयोग करें बैंक-डीएम

0
991

मेरठ. जिलाधिकारी समीर वर्मा ने बैंक अधिकारियों को निर्देशित किया कि शासन की मंशा के अनुरूप कार्य करें और जरूरतमंद पात्रों के की उत्थान एवं स्वरोजगार हेतु अधिकाधिक ऋण प्रदान करें। उन्होंने शासकीय योजनाओं के अन्तर्गत जनपद के विकास के लिए ऋण देने मे आना कानी करने वाले बैंकों के प्रति नाराजगी व्यक्त करते हुए कहा कि वह अपनी इस कार्यप्रणाली में तत्काल सुधार लायें अन्यथा दण्ड को तैयार रहें। उन्होंने कहा कि जनपद के 60 प्रतिशत से कम सीडी रेशों वाले बैंक अपने सीडी रेशों में सुधार लायें वरना उनके विरूद्ध कार्यवाही करते हुए आरबीआई को अवगत कराया जाएगा।
बचत भवन में डीएलआरसी एवं डीसीसी बैठक की अध्यक्षता करते हुए जिलाधिकारी समीर वर्मा ने कहा कि सभी बैंक शासकीय योजनाओं के सफल क्रियान्वयन और जनपद के सर्वांगीण विकास हेतु दिल खोलकर ऋण उपलब्ध करायें। उन्होंने विभिन्न योजनाओं में लक्ष्य के अनुरूप बैंकों में लम्बित पड़े आवेदनों की बैंकवार समीक्षा करते हुए बैंकर्स को निर्देश दिये कि वह बैंकों में आने वाले ऋण आवेदन पत्रों का रजिस्टर में अंकन करें और ऋण स्वीकृत होने व अस्वीकृत होने के कारणों को भी स्पष्ट अंकित करें। उन्होंने जिला अग्रणी बैंक प्रबंधक को निर्देश दिये कि वह बैंकों के साथ समन्वय बनाकर ऋण आवेदन पत्रों की स्थिति की माॅनीटरिंग करें तथा लम्बित प्रकरणों को समय से निस्तरित करायें।
उन्होंने उपस्थित बैंक अधिकारियों को निर्देशित किया कि वह एक सफल कार्ययोजना बनाकर ग्रामों एवं शहरी क्षेत्रों में कैम्पों का आयोजनकर शीघ्र अतिशीघ्र आधार कार्ड एवं मोबाइल सिडिंग का कार्य पूर्ण करायें। उन्होंने कहा कि वह कैम्प लगाकर आमजन को डिजीटल भुगतान के प्रति जागरूक करें जिससे प्रदेश सरकार के उद्देश्य को तीव्रता मिल सके।
जिलाधिकारी ने बैंक अधिकारियों को निर्देश दिये कि वह अपने बैंको में आरबीआई द्वारा जारी सुरक्षा नियमों का कड़ाई से अनुपालन करायें। उन्होंने कहा कि सभी बैंक बैंकों में उच्च क्वालिटी के सीसीटीवी कैमरे स्थापित करायें ताकि हर गतिविधि पर अच्छे से नजर रखी जा सके। बैठक में जिलाधिकारी द्वारा उपस्थित जनों को केन्द्रीय सर्तकता आयोग की सत्यनिष्ठा की शपथ दिलायी गयी।
बैठक में तथ्यों का प्रस्तुतिकरण करते हुए एलडीएम अविनाश तंाती ने बताया कि जनपद में मुद्रा के अन्तर्गत 21250 व्यक्तियों को तथा स्टण्ड अप इण्डिया के अन्तर्गत 66 व्यक्तियों को लाभान्वित किया गया है।
इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी आर्यका अखौरी, जिला विकास अधिकारी अतुल मिश्रा, एजीएम आरबीआई, एजीएम नाबार्ड वी0के0 श्रीवास्तव, उप महाप्रबंधक सिडीकेट बैंक, समस्त बीडीओ सहित विभिन्न बैंकों से आये जिला समन्व्यक/बैक प्रतिनिधि एवं सम्बंधित अधिकारी उपस्थित रहे।

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here