छावनी परिषद अधिकारियों द्वारा 210बी का पानी बिजली काटने को लेकर जनता में रोष

0
809

अधिकारी जो योगेन्द्र हाॅट के सामने हो रहे अवैध निर्माण को क्यो नही रोकते अधिकारी जो योगेन्द्र हाॅट के सामने हो रहे अवैध निर्माण को क्यो नही रोकते सांसद राजेन्द्र अग्रवाल ने लिखा पत्र 

मेरठ। सदर घंटा घर के निकट स्थित कोठी नम्बर 210बी के निवासियों के पानी कनेक्शन काटे जाने के कैंट बोर्ड के अधिकारियों के ब्यान को लेकर आज शहर भर में अलग अलग चचाएं व्याप्त रही तथा छावनी के ही नही नगर के अन्य नागरिकों में भी छावनी परिषद के अधिकारियों के रैवयें को लेकर अंसतोष नजर आया कई अधिवक्ताओं का कहना था की हवा और पानी कोई किसी का नही रोक सकता ऐसी आवश्यक उपयोग की वस्तुओं के बारें में अधिकारियों को सोच समझकर निर्णय लेना चाहिए। कई जागरूक नागरिकों का कथन था की एक तरफ तो अवैध निर्माणों को लेकर छावनी परिषद के अधिकारी कार्यवाही की बात कर रहे है दूसरी और उनके कार्यालय से कुछ ही फासलें पर और विभाग के अवैध निर्माण रोकने से सबंध अधिकारियों की जानकारी में आठों वार्डो में अनेकों स्थानों पर अवैध निर्माण हो रहे है इसकी असलियत अगर अधिशासी अधिकारी चाहे तो खुद योगेन्द्र हाॅट के सामने कोने पर हो रहे भव्य अवैध निर्माण को देख सकते है।बताते चले की मेरठ हापुड़ लोकसभा क्षेत्र के सांसद श्री राजेन्द्र अग्रवाल द्वारा भी छावनी परिषद के अधिशासी अधिकारी को इस संदर्भ में एक पत्र लिखा गया जो इस प्रकार है। प्रिय महोद्य मेरे संज्ञान में आया है कि मेरठ कैंट के बंगला नं0 210बी में निर्मित मकानों की पेयजल तथा विद्युत आपूर्ति को रोके जाने के आदेश छावनी परिषद प्रशासन द्वारा दिये गये है। यह विषय निश्चित ही आपकी भी जानकरी में होगा की इन निर्माणों को नियमित किये जाने का विकल्प रक्षा मंत्रालय के विचाराधीन है इस सबंध में 2015 व 2016 में तत्कालीन माननीय रक्षा मंत्री श्री मनोहर पर्रिकर ने आश्वासन भी दिया था। मेरा आपसे अनुरोध है कि उक्त परिस्थितियांें के आलोक में बंगला नं0 210बी के निवासियों को पेयजल व बिजली की आपूर्ति बाधित न की जाये। माननीय रक्षा मंत्री जी से वार्ता के पश्चात जो भी निर्णय होगा उसके अनुसार कार्यवाही करना उचित रहेगा।    भवदीय राजेन्द्र अग्रवाल संसद सदस्य

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here