आम आदमी के हितार्थ को ध्यान में रखकर करें कार्यः डा0 प्रभात

0
107

मेरठ 20 सितंबर। आयुक्त सभागार में नैतिक शासन के लिये आत्म शासन जरूरी विषय पर एक कार्यशाला का आयोजन आयुक्त डा0 प्रभात कुमार की अध्यक्षता में सम्पन्न हुआ। आयुक्त डा0 प्रभात कुमार ने कहा कि मानवीय पहलू के साथ शासन आवश्यक है। उन्होंने कहा कि हम जो भी कार्य करें वह उस आदमी को ध्यान में रखकर करें जिसे हमारी जरूरत है। उन्होंने कहा कि गरीब की सेवा भगवान की सेवा के समान है। उन्होंने कहा कि स्वः परिवर्तन से ही विश्व परिवर्तन लाया जा सकता है।इस अवसर पर उपस्थित अधिकारियों को स्वःशासन व कर्तव्य निष्ठा की प्रतिज्ञा दिलायी गयी। आयुक्त डा0 प्रभात कुमार ने कहा कि प्रशासनिक गतिविधिया पूरी ईमानदारी, कर्तव्य निष्ठा व नैतिकता को दृष्टिगत रखते हुए करनी चाहिए। उन्होंनेे कहा कि यह नैतिकता व अध्यात्मिकता का  मेल है। उन्होंने कहा कि हम आज बतायी जा रही सीख को अपने काम व कर्तव्य में उपयोग करेंगे।  प्रजापिता ब्रहमकुमारी संस्थान से आयी हुसेन बैन ने कहा कि स्वंय का स्वंय पर शासन ठीक रखकर ही अच्छा प्रशासन दिया जा सकता है। उन्होंने कहा कि यह कार्यक्रम दिल्ली व एनसीआर के 200 कार्यालयों में 24 सितम्बर तक चलाया जाएगा। उन्होेंने कहा कि हम दूसरों के गुण देखकर उसको पहचानते है कि व्यक्ति में वह गुण है क्योकि वहीं गुण हमारे अन्दर  भी व्याप्त होता हैं। उन्होंने कहा कि हमे सुन्ने व समझने की क्षमता विकसित करनी चाहिए। प्रजापिता ब्रहमकुमारी संस्थान से आयी सुनीता दीदी ने कहा कि अच्छे प्रशासन के लिये दृढता आवश्यक हैं तथा आत्मा से परमात्मा का मिलन ही राजयोग कहलाता हैं उन्होंने कहा कि हमे अपने अन्दर यह विचार लाना होगा कि मैं एक चेतन शक्ति आत्मा हूं और मैं परमात्मा की संतान हंू, उन्होनंे कहा कि आत्म नियंत्रण व स्वंय को जानने से ही भगवान को जानना व पाना आसान होगा। इस अवसर पर मुख्य वन संरक्षक ललित,  संयुक्त विकास आयुक्त एबी मिश्रा, अपर आयुक्त आर0एन0 धामा, एडीएम ई सत्य प्रकाश पटेल, एसटी ट्रैफिक संजीव वाजपेयी  उपनिदेशक पंचायती राज प्रवीणा चैधरी, क्षेत्रीय उच्च शिक्षाधिकारी डा0 आर0के गुप्ता संयुक्त निदेशक कृषि सुनील अग्निहोत्री, मुख्य अभियता लोनिवि आरपी सिंह,  व अन्य अधिकारीगण उपस्थित रहे।

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

18 + eight =