Friday, July 19

एमपीपीएससी परिणाम 2019: सतना की प्रिया पाठक बनी टॉपर, टॉप 10 में 7 लड़कियां शामिल

Pinterest LinkedIn Tumblr +

सतना 27 दिसंबर। मध्य प्रदेश राज्य सिविल सेवा 2019 का रिजल्ट आ गया है। सतना की प्रिया पाठक पूरे प्रदेश में टॉप की हैं। रिजल्ट आने के बाद परिवार में खुशी की लहर है। राज्य सिविल सेवा का रिजल्ट 26 दिसंबर को देर रात जारी की गई है। एमपीपीएससी में टॉप करने वाली प्रिया पाठक 26 साल की हैं, वह आईएएस टीना टाबी को रोल मॉडल मानती हैं। रिजल्ट आने के बाद प्रिया पाठक ने कहा कि मैंने स्नातक की पढ़ाई के दौरान ठान लिया था कि उन्हें प्रशासनिक सेवा में करियर बनाना है।
दरअसल, सतना जिले के नागौद से ताल्लुक रखने वाली प्रिया राज्य सेवा परीक्षा 2020 में पुलिस उपाधीक्षक (डीएसपी) पद पर चुनी गई थीं। इसके नौ जून 2023 को घोषित परिणाम में चयन सूची में दूसरा स्थान हासिल किया था। लंबी कानूनी पेचीदगियों के चलते मध्य प्रदेश लोक सेवा आयोग (एमपीपीएससी) ने 2019 की राज्य सेवा परीक्षा का परिणाम मंगलवार (26 दिसंबर) देर रात घोषित किया।

अपनी सफलता से उत्साहित प्रिया ने बताया कि बायो टेक्नोलॉजी विषय में स्नातक अंतिम वर्ष की पढ़ाई के दौरान मैंने तय कर लिया था कि मुझे प्रशासनिक सेवा में आना है। मैं संघ लोक सेवा आयोग (यूपीएससी) की 2015 में आयोजित सिविल सेवा परीक्षा में शीर्ष स्थान करने वाली टीना डाबी से प्रेरित हूं। उन्होंने बताया कि यह बात मेरे मन में एक प्रेरणा के तौर पर हमेशा रहती थी कि टीना डाबी ने केवल 22 साल की उम्र में सिविल सेवा परीक्षा में अपने पहले प्रयास में शीर्ष स्थान हासिल किया। मैं भारतीय प्रशासनिक सेवा के अन्य वरिष्ठ अफसरों से भी प्रभावित हूं।

सामान्य पृष्ठभूमि से आने वाली प्रिया के पिता कृष्णशरण पाठक एक शासकीय प्राथमिक विद्यालय में सहायक शिक्षक हैं। 26 वर्षीय प्रिया ने राजनीति विज्ञान में स्नातकोत्तर उपाधि हासिल की है। उन्होंने बताया कि मैंने ठान लिया था कि मुझे राज्य सेवा परीक्षा में सफल होना ही है। परीक्षा की तैयारी के दौरान मैंने कभी हार नहीं मानी। जब लक्ष्य बड़ा हो, तो मेहनत करनी ही पड़ती है और सफलता मिलने तक सब्र रखना ही पड़ता है।
बता दें कि यह परिणाम 87 प्रतिशत के आधार पर जारी किये गए हैं। इस तरह 13 फीसदी नतीजों को होल्ड पर रखा गया है। 27 प्रतिशत ओबीसी आरक्षण पर कोर्ट का निर्णय आने के बाद इन नतीजों को जारी किया जाएगा। इस तरह दो अलग-अलग मुख्य परीक्षाओं के बाद एक परिणाम किया गया है।

गौरतलब है कि एमपीएससी की यह परीक्षा 571 पदों के लिए आयोजित की गई थी। 87 फीसदी नतीजे के आधार पर फिलहाल 472 पदों के नतीजों का ऐलान किया गया है। इनमें 24 डिप्टी कलेक्टर, 19 डीएसपी, 17 कोषालय अधिकारी समेत अन्य पदों के लिए परिणामों की घोषणा की गई है।
एमपीपीएससी के एक अधिकारी ने बुधवार को कहा कि मध्य प्रदेश लोक सेवा आयोग द्वारा आयोजित राज्य सेवा परीक्षा 2019 के शीर्ष 10 सफल उम्मीदवारों में सात महिलाएं शामिल हैं। एमपीपीएससी, जिसका मुख्यालय इंदौर में है, द्वारा मंगलवार देर रात घोषित परिणामों के अनुसार, प्रिया पाठक ने परीक्षा में टॉप किया और डिप्टी कलेक्टर के पद के लिए चुनी गईं।

अधिकारी ने कहा, डिप्टी कलेक्टर पद के लिए चयनित अन्य शीर्ष नौ उम्मीदवार (सूची में रैंक के अनुसार) शिवांगी बघेल, पूजा सोनी, राहुल कुमार पटेल, निधि मिश्रा, हरनीत कौर कलसी, सौरभ मिश्रा, सलोनी अग्रवाल, रीतिका पाटीदार और आशुतोष महादेव सिंह ठाकुर हैं।

Share.

About Author

Leave A Reply