वसूली से संबंधित किसी भी मंडलीय अधिकारी को अवकाष अनुमन्य नहीं-आयुक्त

0
101

मेरठ. आयुक्त सभागार में मंडलीय राजस्व एवं कर करेत्तर वसूली की समीक्षा बैठक की अध्यक्षता करते हुये आयुक्त अनीता सी0 मेश्राम ने अधिकारियों को निर्देषित किया कि वह कार्य योजना बनाकर वित्तीय वर्ष के अंत तक वसूली के लक्ष्यों को प्राप्त करे। उन्होने कहा कि मंडल के सभी जिलाधिकारी राजस्व वसूली, वरासत व आईजीआरएस के लंबित प्रकरणों के संबंध में स्वयं गहन समीक्षा बैठक करें। उन्होने निर्देषित किया कि वसूली से संबंधित किसी भी मंडलीय अधिकारी को अवकाष अनुमन्य नहीं होगा। उन्होने वसूली में तेजी लाने के निर्देष दिये।
आयुक्त अनीता सी0 मेश्राम ने कहा कि अधिकारी राजस्व संहित, भू राजस्व अधिनियम व जमींदारी विनाष अधिनियम से संबंधित वादों के निस्तारण की न्यायालय व प्रकरणवार समीक्षा कर उनका प्राथमिकता पर निस्तारण कराये। उन्होने निर्देषित किया कि स्वामित्व योजना अंतर्गत अधिसूचित ग्रामों को ड्रोन सर्वे जल्द से जल्द पूर्ण कराकर व नक्षे प्राप्त करके ग्रामवासियों को घरौनियों को वितरण कराया जाये।
आयुक्त ने निर्देषित किया कि वरासत से संबंधित प्रकरणों को प्राथमिकता पर निस्तारित किया जाये तथा यह सुनिष्चित किया जाये कि समयसीमा के उपरांत कोई भी प्रकरण लंबित न रहे। उन्होने निर्देषित किया कि आईजीआरएस के लंबित प्रकरणों का प्राथमिकता पर निस्तारण कराया जाये तथा इसकी नियमित समीक्षा की जाये। उन्होने कहा कि डिफाल्टर संदर्भों का 02 दिनों में निस्तारण सुनिष्चित कराये।
आयुक्त ने कहा कि राजस्व वसूली से संबंधित किसी भी मंडलीय अधिकारी को कोई अवकाष अनुमन्य नहीं होगा। उन्होने कहा कि कोई भी अधिकारी अपने अवकाष स्वीकृति के लिए प्रार्थना पत्र इधर उधर न भेजे। उन्होने कहा कि केवल विषेष परिस्थितियों में ही अवकाष अनुमन्य किया जायेगा।
अपर आयुक्त रजनीष राय ने मंडलीय कर राजस्व की प्रगति पर प्रकाष डालते हुये बताया कि वार्षिक लक्ष्य के सापेक्ष प्रगति मंे स्टांप एवं पंजीकरण फीस में 35.53 प्रतिषत, राज्य आबकारी शुल्क में 52.95 प्रतिषत, वाणिज्य कर में 40.14 प्रतिषत, वाहन कर, माल एवं यात्रीकर में 41.38 प्रतिषत, विद्युत कर तथा शुल्क में 68.94 प्रतिषत, एलोह खनन में 40.62 प्रतिषत तथा मुख्य व मध्यम सिंचाई में 76.09 प्रतिषत है।
उन्होने बताया कि राजकीय देयो की वसूली में वार्षिक लक्ष्य के सापेक्ष प्रगति में स्टांप देय 19.30 प्रतिषत, वाहन कर 53.92 प्रतिषत, विद्युत देय 48.22 प्रतिषत, बैंक देय 68.77 प्रतिषत, अन्य देय 62.46 प्रतिषत है। उन्होने बताया कि स्वामित्व योजनान्तर्गत मेरठ के 320 ग्रामों सहित मंडल में 2676 ग्राम अधिसूचित किये जा चुके है जिनमें मेरठ के 185 ग्रामों सहित 2004 का सर्वे पूर्ण हो गया है तथा मेरठ के 55 ग्रामों सहित 1049 ग्रामों के नक्षे प्राप्त भी हो गये है। मंडल में 22 ड्रोन टीम कार्यरत है।
इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी वित्त मेरठ सुभाष चन्द्र प्रजापति, गौतमबुद्ध नगर वंदिता श्रीवास्तव, हापुड जयनाथ यादव, अपर जिलाधिकारी जगदम्बा सिंह, यशवर्धन, डिप्टी कलेक्टर बागपत रामनयन सहित अन्य अधिकारीगण उपस्थित रहे।

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

one × 2 =