बसपा में बड़ी सेंध की तैयारी! आज अखिलेश यादव से मिले मायावती के 7 बागी विधायक, SP में शामिल होने की अटकलें तेज

0
342

लखनऊ. यूपी में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए सभी पार्टियों ने अपनी कमर कस ली है. पार्टियों ने जोड़-तोड़ की सियासत भी शुरू कर दी है. आज बीएसपी के 7 बागी विधायकों ने अखिलेश यादव से मुलाकात की है. इनके एसपी में शामिल होने की अटकलें अब तेज हो गई हैं. पंचायत चुनाव में मिली सफलता के बाद एसपी काफी उत्साहित है. एसपी दूसरे दलों के नेताओं को पार्टी में शामिल करने की रणनीति पर काम कर रही है.

अखिलेश यादव बीएसपी में सेंध लगाने की तैयारी में हैं. दरअसल बीएसपी के बागी विधायकों ने आज एसपी अध्यक्ष अखिलेश यादव ने मुलाकात की है. इन विधायकों को मायावती ने निलंबित कर दिया था. अखिलेश से मिलने वाले विधायकों में असलम राइनी, मुजतबा सिद्दीकी, हाकिम लाल बिंद, हरगोविंद भार्गव,असलम अली चौधरी, सुषमा पटेल, रामअचल राजभर और लालजी वर्मा शामिल हैं.

SP में शामिल हो सकते हैं BSP के बागी विधायक
बीएसपी ने निकाले जाने के बाद ये अटकलें तेज हो गई थीं कि ये बागी विधायक एसपी का दामन थाम सकते हैं. अब अखिलेश से मुलाकात के बाद ये बात करीब साफ हो गई है कि ये सभी जल्द ही एसपी में शामिल हो सकते हैं. मायावती के विधायकों के एसपी में शामिल होने से पार्टी को विधानसभा चुनाव में काफी फायदा हो सकता है. राज्यसभा चुनाव से पहले भी अखिलेश ने बीएसपी खेमे में सेंधमारी की कोशिश की थी.

उस दौरान भी ये खबर सामने आई थी कि बीएसपी के चार विधायक अखिलेश के संपर्क में हैं. उसके बाद मायावती ने अपने 7 विधायकों को पार्टी से निकाल दिया था. अब सभी के एसपी ज्वॉइन करने की अटकलें तेज हो गई हैं. अखिलेश से विधायकों की मुलाकात के बाद इस खबर को और भी बल मिल रहा है. ये भी चर्चा तेज है कि मायावती के कुछ और विधायक भी इन बागी विधायकों के संपर्क में हैं और वे भी जल्द एसपी के साथ जा सकते हैं. अगर ऐसा होता है तो बीएसरी पूरी तरह से टूट की कगार पर पहुंच सकती है.

मायावती ने 7 विधायकों को पार्टी से बाहर निकाला
अगर बीएसपी से बागी विधायक सपा का दामन थामते हैं तो आगामी विधानसभा चुनाव के लिए पार्टी को और भी मजबूती मिलेगी. पिछले साल राज्यसभा चुनाव के समय बीएमपी के 7 विधायक बगावत के बाद अखिलेश यादव से मुलाकात के लिए पहुंचे थे. श्रावस्ती के विधायक असलम राइनी ने सभी को लीड किया था. विधायकों के बागी तेवर से गुस्साईं मायावती ने आगामी विधानपरिषद चुनाव में बीजेपी प्रत्याशियों को वोट करने की बात कह कर राजनीति भूकंप ला दिया था. मायावती ने राज्यसभा चुनाव में बगावत करने वाले 7 विधायकों को पार्टी से बाहर का रास्ता दिखा दिया था.

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

fourteen − two =