ऋषभ एकाडेमी: राजेश जैन व संजय जैन को मिली जिम्मेदारी, शिक्षा का स्तर कायम रखने और बच्चों की सुविधा के लिए दो सदस्यीय समिति हुई सक्रिय

0
472

मेरठ, 13 अक्टूबर (नगर संवाददाता) वेस्ट एंड रोड स्थित ऋषभ एकाडेमी के सचिव और अध्यक्ष रहे रंजीत जैन और प्रधानाचार्या याचना भारद्वाज अभी जेल में ही है। जमानत पर कब बाहर आएंगे और लगे आरोपों के बारे में उनका पक्ष क्या होगा आम जनता के समक्ष तभी आ पाएगा लेकिन फिलहाल जानकारी के अनुसार ऋषभ एकाडेमी के संचालन वाली साधारण सभा ने सूत्रों की माने तो बीते दिनों सर्वसम्मिति से मुजफ्फरनगर निवासी कागज मिलों के संचालक उत्पादक राजेश जैन व ऋषभ एकाडेमी व जैन मंदिर प्रकरण का पर्दाफाश करने वाले सीए संजय जैन की दो सदस्यीय उपसमिति बनाकर स्कूल संबंधी रोजमर्रा के कार्यों के निस्तारण का रास्ता साफ कर दिया है। इस संदर्भ में सीए संजय जैन ने पूछने पर आज बताया कि मेरठ मंडलायुक्त जी द्वारा संस्थाओं की जांच कराई गई थी। जिसमें जांच अधिकारी ने अपनी रिपोर्ट देते हुए ऋषभ एकाडेमी की उच्च स्तरीय जांच कराने और डिप्टी रजिस्ट्रार चिट फंड सोसायटी द्वारा पत्रावलियों का निरीक्षण करने की बात कही गई बताई जाती है। संजय जैन का कहना है कि वो सभा का आदेश मानते हुए काम को सुचारू रूप से चलाने का प्रयास करेंगे। और छूटटी के बाद सड़क जाम ना हो और बच्चों को आवागमन से परेशानी से बचाने के दृष्टिकोण से क्लासों की छुटटी में थोड़ा अंतराल की व्यवस्था कराने का प्रयास करेंगे जिसमें हर क्लास की छुटटी कुछ मिनटों के अंतराल से हो और अभिभावकों को भी अपने बच्चों को भीड़ में ढूंढने की परेशानी ना उठानी पड़े। एक अन्य प्रश्न के उत्तर में संजय जैन का कहना था कि मामला न्यायालय में विचाराधीन है। इसलिए ज्यादा कुछ कहना नहीं है लेकिन बच्चों के भविष्य को सुरक्षित करने के लिए पढ़ाई का स्तर बनाने के लिए सभी से सहयोग लेकर कार्य किया जाएगा। और जो भी जांच होगी उसमें जांचकर्ता अधिकारी को हर तरह से पूर्ण सहयोग हम देंगे।

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

fourteen − two =