रेरा की यूपी साइट देश में नंबर वन: मुकुल सिंघल ने कहा आॅन लाईन होंगे नक्शे पास, बिल्डरों के साथ साथ प्राधिकरण व आवास विकास के खिलाफ भी होगी कार्रवाई

0
1283

मेरठ 13 नवंबर। प्रदेश के आवास एवं नगर विकास मुख्य सचिव हाउसिंग मुकुल सिंघल ने अपने संबोधन में जूते, भूत तथा जाूद की पुड़िया का जिक्र करते हुए कहा कि जूता अगर काटने लगे तो उसे बदलना पड़ता है और रेरा नया नियम है इसलिये भूत नजर आ रहा है जबकि ऐसा है नहीं। सरकार के पास जाूद की कोई पुड़िया नहीं है। श्री मुकुल सिंघल ने अपने लगभग 30 मिनट के संबोधन में बडी ही सरल भाषा और हिंदी में रेरा के नियम, कानून का जो प्रस्तुतीकरण किया उससे आम आदमी की काफी गलत फहमियां दूर हुई।
उन्होंने कहा कहा बिल्डरों को रेरा कानून का पालन करना होगा। कानून का उल्लंघन करने वालों पर सख्त कार्रवाई की जाएगी। साथ ही कहा कि जिन बिल्डरों ने रेरा कानून लागू होने के साथ वेबसाइट पर आॅनलाइन पंजीकरण में गलत सूचना दी है, निश्चित तौर पर उनके खिलाफ होगी उनका कहा कहना था कि अंपीकृत बिल्डरों द्वारा सस्ता माल बेचे जाने से पंजीकृत और नियम-कानून के तहत कारोबार करने वाले बिल्डरों के लिए बड़ी चुनौती है, जिसका हम सभी को मिलकर सामना करना होगा।
रविवार को वेस्टर्न यूपी चैंबर आॅफ काॅमर्स एंड इंडस्ट्रीज बाॅबे बाजार के गूजरमल मोदी सभागार में इंडस वैली गु्रप के चेयरमैन जीएसटी एवं रेरा (रियल एस्टेट) विषय पर सेमिनार का आयोजन किया। पहले सत्र में सेमिनार का उद्घाटन पूर्व केंद्रीय मंत्री संजीव बालियान, मेरठ विकास प्राधिकरण के वीसी साहब सिंह, वेस्टर्न यूपी चैंबर आॅफ काॅमर्स एंड इंडस्ट्रीज के अध्यक्ष अरविंद नाथ सेठ, कार्यक्रम चेयरमैन अजय गुप्ता व डा. ब्रजभूषण गोयल द्वारा दीप प्रज्जवलित कर किया। सेमिनार में प्रदेश के आवास एवं नगर विकास मुख्य सचिव हाउसिंग मुकुल सिंघल ने कहा रियल एस्टेट अभी तक अनियंत्रित प्रकार का सेक्टर रहा। जमीन और संपत्ति की कीमतें रोज बढ़ी, मगर उसकी कमियां नहीं दिखाई दी। उन्होंने कहा कि बिल्डर्स ने मनमानी बहुत की। तमाम शिकायतें आई। स्वीकृति से अधिक टावर बना लिए। कहीं पार्क के लिए जगह नहीं छोड़ी, कहीं जगह छोड़ी तो वहां भी बाद में बिल्डिंग बना दी। श्री सिंघल ने कहा कि बिल्डरों के साथ प्राधिकरणों की मिलीभगत रही। क्योंकि बिल्डरों ने जो मनमानी प्राधिकरण की ही नियम-कानून का पालन कराने की जिम्मेदारी थी।
केंद्र सरकार ने रेरा नया कानून बनाया। जो बिल्डरों (विकासकर्ताओं) पर शिकंजा है। श्री सिंघल ने कहा कि यह कानून खरीदारों के हित की रक्षा करेगा। नियम तोड़ने वालों पर सख्त कार्रवाई की जाएगी। हालांकि यह अतिरिक्त व्यवस्था है, पहले की तरह से भी शिकायतें जहां जाएगी। वहां सुनी जाएगी और उनका समाधान-कार्रवाई होगी। नए कानून से बिल्डरों पर दवाब बढ़ गया है। कानून सख्त हो गया। अब कहा जा रहा की संशोधन हो और ढील दी जाए कि अक्सर सरकार बड़े वर्ग को ध्यान में रखते हुए कोई भी नियम-कानून नहीं बनाती है।
बताया कि रेरा कानून के तहत एक अलग से स्वतंत्र रेगुलटर बना है। इसके जरिए निजी अथवा सरकारी एजेंसियों पर भी दबाव बनेगा आमजन को सुविधा मिलेगी। नया कानून है, जो धीरे-धीरे विकसित होगा। श्री सिंघल का कहना था कि रेरा कानून यूपी में देर से लागू हुआ। क्योंकि यूपी में इसके सहायक नियम और व्यवस्थाएं बनाने में विलंब हुआ। दूसरी ओर उन्होने कहा कि प्राधिकरणों के खिलाफ जो शिकायतें होगी उनकी रेरा अफसरों से जांच कराएंगे। गड़बड़ी करने वाला कोई नहीं बचेगा। साथ ही कहा कि रेरा के तहत सिर्फ आॅन लाइन शिकायत ही स्वीकार की जाएगी। उन्होंने बिल्डरों के प्रति आम जनता में बनी नकारात्मक छवि को भी बदलने पर जोर दिया।
श्री मुकुल सिंघल ने अपने संबोधन में स्पष्ट कहा कि रेरा यूपी में आने पर थोड़ी देर जरूर हुई। लेकिन हमारे यहां रेरा पर काम जितनी तेजी से हो रहा है उतना कहीं नहीं हुआ। यूपी में रेरा की वेबसाइट 12.5 लाख लोगों ने विजिट की। जबकि महाराष्ट्र की रेरा साइट पर मात्र 9 लाख 85 हजार लोग पहुंचे तथा मप्र की रेरा साइट पर डेढ़ लाख लोगों ने विजिट की।
गुजरात में 2 लाख 30 हजार लोगों ने विजिट की। इसके बाद राजस्थान का नंबर आया। अभी तक रेरा की वेब साइट पर 650 शिकायतें आ चुकी है जिनमे से 450 नोएडा और ग्रेटर नोएडा की है।
श्री रतनेश सिंह के संचालन में दिन में लगभग 11.30 बजे शुरू हुई सेमिनार में पूर्व केन्द्रीय मंत्री मुजफरनगर से सांसद डाॅ. संजीव बालियान द्वारा अपने सारगर्वित सम्बोधन में जीएसटी व रैरा कानून को लेकर रीयल स्टेट से सबंध स्पष्ट रूप से अपने विचार व्यक्त करते हुए बेबाक टिप्पणियां की गई और बिल्डरों के समक्ष आने वाली समस्यों पर विस्तार से चर्चा की डाॅ. बालियान गत दिवस को यहां बाॅम्बे बाजार स्थित चेम्बर आॅफ काॅमर्स एडं इडस्ट्रीज के सभागार में इंडस वैली गु्रप के चेयरमेन श्री अजय गुप्ता व संजय गुप्ता के प्रयासों से आयोजित सेमिनार में अपने विचार व्यक्त कर रहे थे। दिन में लगभग 11 बजें शुरू हुई सेमिनार में पहुंचे डाॅक्टर संजीव बालियान द्वारा कुछ देर तक कार्यक्रम के आयोजक अजय गुप्ता से एकांत में विचार विमर्श किया गया तत्पश्चात डाॅ. संजीव बलियान चेम्बर अध्यक्ष श्री अरविंद नाथ सेठ एमडीए उपाध्यक्ष श्री साहब सिंह आयोजक चेयरमेन श्री अजय गुप्ता तथा चेम्बर के वरिष्ठ उपाध्यक्ष डाॅ. ब्रजभुषण गोयल आदि द्वारा दीप प्रज्जवलित कर सेमिनार का शुभारंभ किया गया।
यहां पहुंचने पर सेठ अरविंद नाथ, राम कुमार गुप्ता, डाॅ. ब्रजभुषण गोयल, अंकित बिश्नोई, संदीप गुप्ता ऐल्फा, डाॅ. संजय गुप्ता, सुधीर शर्मा आदि द्वारा मुख्य अतिथि का स्वागत किया गया। इस मौके पर सभागार में श्री पीके मितल एडवोकेट, आरसी वर्मा, जीएसटी सलाहकार श्री विवेक कुमार, मनुरिषी जैन, सलाहकार अलोक त्यागी, वेंकटराव, रजनी शर्मा, एमडीए के शहर योजना प्रमुख जेएन रेड्डी, श्री गौरव जग्गी, स्टेªट कन्ज्यूमर फोरम संजय राजवंशी, अशोक कुमार गर्ग, पूर्व विधायक अमित अग्रवाल, दैनिक हिंदुस्तान के ऐरिया प्रमुख व वरिष्ठ पत्रकार पुष्पेंद्र शर्मा, अंतरराष्ट्रीय ख्याति प्राप्त रोटेरियन गजेंद्र सिंह धामा, कमल ठाकुर, योगेश गुप्ता, जय प्रकाश अग्रवाल, अमन गुप्ता, श्री उमेश कौशिक एवं अशोक गोयल, वरूण अग्रवाल एडको ग्रुप व उत्कर्ष जैन, अरविंद रस्तौगी, जोगेष रस्तौगी आदि विशेष रूप से मौजूद रहे। आयोजन का दोनों चरण चेम्बर के सचिव सरदार बलवीर सिंह, सहायक सचिव श्रीमति सरिता अग्रवाल के सहयोग से अत्यंत सफल रहा।
सेमिनार की सफलता मे एसके डे अनुराग, रामनिवास आदि का भी सहयोग रहा। दूसरे चरण में उप्र0 के प्रमुख सचिव आवास श्री मुकुल सिंहल द्वारा सेमिनार के विषयो पर विस्तार के साथ अपने विचार रखे गए।
दीप प्रज्जवलित कर सेमिनार का शुभारंभ डाॅ. संजीव बालियान, एमडीए वीसी साहब सिंह, चेम्बर अध्यक्ष अरविंद नाथ सेठ, सेमिनार आयोजक अजय गुप्ता तथा वरिष्ठ उपाध्यक्ष ब्रजभूषण गोयल चैम्बर के डायरेक्टर अंकित बिश्नोई।
उपस्थितों को सम्बोधित करते संजीव बालियान व मंचासीन एमडीए वीसी साहब सिंह आयोजक, में संदीप गुप्ता ऐल्फा, एमडीए वीसी साहब सिंह, अंकित बिश्नोई, बिल्डर जेपी अग्रवाल, अमन अग्रवाल, योगेश गुप्ता, कमल ठाकुर उपस्थित रहे। सेमिनार में उपस्थितों को यूपी उपभोक्ता अदालत के सदस्य महेश चंद गुप्ता आईएएस ने भी संबोधित किया और सेमिनार के विषयों पर विस्तार से प्रकाश डाला। प्रमुख सचिव आवास मुकुल सिंघल ने जीएसटी व रेरा तथा रियल इस्टेट से संबंध विषय पर एक दिवसीय सेमिनार सफलता के साथ पूर्ण कराने पर आयोजक चेयरमेन अजय गुप्ता, को स्मृति चिंह व बुके भेंटकर सम्मानित भी किया।

 

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here