मेरठ में मेट्रो चलाने पर विशेष सचिव ने वीडियो कांफ्रेसिंग के जरिए मांगे सुझाव

0
322

मेरठ, 24 अक्टूबर (प्र)। मेरठ में मेट्रो को लेकर कवायद अब तेज होती जा रही है। विशेष सचिव आवास अपूर्वा दुबे ने गत दिवस वीडियो कांफ्रेंसिंग की। जिसमें एमडीए उपाध्यक्ष मुकुल चौधरी और सहायक नगर नियोजक गोल्की कौशिक शामिल हुए। एमडीए से शासन ने मेरठ मेट्रो पर सुझाव मांगा है। मालूम हो कि मेरठ शहर में लाइट मेट्रो चलाने की योजना है। यह मेट्रो श्रद्धापुरी फेज दो से जाग्रति विहार एक्सटेंशन गोकुलपुर तक चलेगी।

केंद्र सरकार ने शासन से इसके लिए डीपीआर मांगी है। उसी क्रम में शासन ने एमडीए से पूछा है कि कुछ साल पहले जो डीपीआर राइट्स ने तैयार की थी उसे जल्द से जल्द सुझाव के साथ भेजा जाए। पहले जो डीपीआर तैयार हुई थी उसमें दोनों रूट शामिल किए गए थे। एक रूट परतापुर से मोदीपुरम तक और दूसरा रूट श्रद्धापुरी फेज दो से जाग्रति विहार एक्सटेंशन गोकुलपुर तक शामिल था।

जिसमें से परतापुर वाला रूट रैपिड रेल कारीडोर के साथ समायोजित कर दिया गया है। पहली वाली डीपीआर में बड़ी मेट्रो चलाने की योजना थी। पर अब जो डीपीआर बनेगी वह लाइट मेट्रो के हिसाब से बनेगी। हालांकि अभी यह तय होना बाकी है कि डीपीआर संशोधित होगी या नई डीपीआर तैयार कराई जाएगी। फिलहाल शासन ने सुझाव व वर्तमान परिस्थिति की जानकारी मांगी है। सहायक नगर नियोजक गोल्की का कहना है कि एक सप्ताह के अंदर शासन को सुझाव भेज दिए जाएंगे।

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

2 × five =