Friday, July 19

मस्जिद में घुसकर आतंकियो ने की पूर्व एसएसपी शफी मीर की गोली मारकर हत्या

Pinterest LinkedIn Tumblr +

बारामुला 25 दिसंबर। जम्मू-कश्मीर के बारामूला में बड़ा आतंकी हमला हुआ है. यहां गैंटमुल्ला इलाके में आतंकियों ने रिटायर्ड एसएसपी की गोली मारकर हत्या कर दी. रिटायर्ड एसएसपी का नाम मोहम्मद शफी मीर बताया जा रहा है. कहा जा रहा है कि मोहम्मद शफी जब मस्जिद में नमाज पढ़ रहे थे तो आतंकियों ने उनपर फायरिंग कर दी. मोहम्मद शफी को अस्पताल भी ले जाया गया, लेकिन उन्हें बचाया नहीं जा सका.

रिश्तेदार मोहम्मद मुस्तफा ने पुलिस को बताया कि भोर से पहले की नमाज के लिए लाउडस्पीकर से अजान दी जा रही थी, तभी वह अचानक बंद हो गई। मीर के आखिरी शब्द ‘रहम’ थे। पूर्व एसएसपी मस्जिद में ‘मुअज्जिन’ थे। ‘मुअज्जिन’ वह होता है, जो अजान के जरिए लोगों को नमाज के लिए बुलाता है। मीर के परिवार में उनकी पत्नी, दो बेटे और एक बेटी है।श्उधर, पुंछ में शहीद चार सैनिकों को श्रद्धांजलि दी गई। वहां रविवार को भी मोबाइल इंटरनेट सेवाएं ठप रहीं।

मुस्तफा ने कहा कि उन्हें लगा कि मीर ने किसी अन्य कारण से अपना फोन बंद कर दिया होगा और अनुमान लगाया कि वह चक्कर आने के कारण गिर गए होंगे। लेकिन कुछ देर बाद लोगों को घटना के बारे में पता चला। उन्होंने कहा कि मेरी बेटी ने आकर मुझे बताया कि शफी चाचा की मौत हो गई है। हम उनके घर गए और पता चला कि मीर को बारामूला (अस्पताल) ले जाया गया है… हमें बताया गया कि उन्हें गोली लगी है।

जम्मू कश्मीर पुलिस ने ट्वीट कर बताया है कि घटना के बाद सुरक्षाबलों ने पूरे इलाके की घेराबंदी कर दी है. फिलहाल इलाके में सर्च ऑपरेशन चलाया जा रहा है. पुलिस ने बताया कि इलाके की कड़ी निगरानी की जा रही है.

बता दें कि जम्मू कश्मीर में पिछले कई दिनों से आतंकी घुसपैठ की कोशिश कर रहे हैं. पुंछ हमले के बाद 23 दिसंबर को जम्मू में अखनूर के खौर सेक्टर में सीमा के पास सुरक्षाबलों ने एक आतंकी को ढेर कर दिया था. यहांभारी हथियारों से लैस चार आतंकवादियों के एक समूह ने भारतीय सीमा में घुसकर घुसपैठ की कोशिश की, लेकिन सुरक्षाबलों ने उनके मंसूबे नाकाम कर दिए. सुरक्षाबलों ने बताया कि बाकी बचे तीन आतंकी अपने साथी का शव घसीट कर ले गए.

Share.

About Author

Leave A Reply