Saturday, July 20

अधिवक्ता के परिवार से अभद्रता पर किठौर के तीन सिपाही लाइन हाजिर

Pinterest LinkedIn Tumblr +

किठौर 18 जून (प्र)। आखिर वही हुआ जिसकी संभावना जताई जा रही थी। एसएसपी ने सोमवार शाम चलाई एक्शन एक्सप्रेस में किठौर के उन तीन पुलिसकर्मियों को भी लाइन के लिए लाद लिया जिन्होंने एक सप्ताह पूर्व भूमि विवाद के मामले में राधना निवासी अधिवक्ता की मां और भाभी से अभद्रता की थी। एसएसपी को इन सिपाहियों की पहले भी कई शिकायतें मिल चुकी थीं।

गत मंगलवार को राधना निवासी अधिवक्ता आबाद पुत्र ताज मुहम्मद ने बार एसोसिएशन के पदाधिकारियों के साथ एसएसपी से मुलाकात कर बताया था कि उसके चचेरे दादा खिलाफत पुत्र अब्दुल गनी नि: संतान थे। उनकी प्रॉपर्टी भतीजे ताजमुहम्मद पर है। बताया कि गतवर्ष गांव के ही कमरे आलम पुत्र मुहम्मद अली ने खिलाफत की आबादी की भूमि का फर्जी बैनामा कर लिया। ताजमुहम्मद को इसका पता चला तो उसने कोर्ट में चुनौती देते हुए फर्जीवाड़े में संलिप्त कमरे आलम और उसकी दो महिला रिश्तेदारों के विरुद्ध मवाना थाने में धोखाधड़ी की रिपोर्ट दर्ज करा दी।

जिसमें कमरे आलम जेल काट चुका है, महिला आरोपी अभी फरार हैं। ये वाद कोर्ट में विचाराधीन है। ताजमुहम्मद ने उक्त भूमि पर मकान बना लिया। जिसमें वह परिवार समेत रह रहा है। आबाद ने एसएसपी को बताया पिछले कुछ दिन से किठौर थाने के सिपाही उसके पिता पर मकान खाली करने का दबाव बना रहे हैं। अधिवक्ता ने बताया कि सोमवार को वह मेरठ कचहरी आया हुआ था। तभी किठौर थाने से सिपाही बिजेंद्र सोलंकी, योगेंद्र पंवार समेत चार पुलिसकर्मी गाड़ी लेकर उसके घर पहुंचे और अधिवक्ता की मां अमीरजहां व भाभी सैयदा को धमकाते हुए मकान खाली करने को कहा।

अधिवक्ता का आरोप था कि उसकी मां ने कोर्ट का हवाला दिया तो पुलिसकर्मियों ने गाली-गलौज करते हुए उन्हें धक्का दे दिया। जिससे वे जमीन पर गिर पड़ीं। पुलिसकर्मी सैयदा का मोबाइल छीन ले गए। आबाद ने बताया कि शाम को उसने थाने जाकर जानकारी का प्रयास किया तो आरोपी सिपाहियों ने उसे भी जेल भेजने की धमकी दी। इस प्रकरण में एसएसपी ने अधिवक्ताओं को जांच के बाद प्रभावी कार्रवाई का आश्वासन दिया था। तभी से बिजेंद्र सोलंकी और योगेंद्र पंवार पर कार्रवाई की संभावना जताई जा रही थी।

बहरहाल, सोमवार शाम एसएसपी रोहित सिंह सजवाण द्वारा जिलेभर में चलाई गई तबादला एक्सप्रेस में जिन 37 पुलिसकर्मियों को थानों से पुलिस लाइन के लिए लादा गया है। उनमें किठौर से बिजेंद्र सोलंकी, योगेंद्र पंवार के साथ प्रवीण यादव भी शामिल हैं। वहीं, मुंडाली से हेड कांस्टेबल ब्रहमपाल सिंह और गौरव को भी लाईन भेजा गया है।

Share.

About Author

Leave A Reply