अमरनाथ यात्री वाहनों पर लगेंगे ट्रैफिक चिप, तय समय बाद आने पर रोक

0
85

श्रीनगर. अमरनाथ यात्रा पर आने वाले श्रद्धालुओं की सुरक्षा के लिए रेडियो फ्रीक्वेंसी आइडेंटिफिकेशन (आरएफआईडी) चिप वाहनों पर लगाना अनिवार्य होगा। साथ ही वाहनों के गुजरने के लिए कट ऑफ टाइम जारी किया जाएगा। इस समय के बाद किसी भी यात्री को घाटी की ओर आने तथा जम्मू की ओर जाने की अनुमति नहीं होगी। यह फैसला शुक्रवार को केंद्रीय गृह सचिव अजय भल्ला व इंटेलिजेंस ब्यूरो (आईबी) के निदेशक अरविंद कुमार की अध्यक्षता में हुई उच्च स्तरीय बैठक में किया गया। ज्ञात हो कि यात्रा इस साल 30 जून से शुरू होगी और 43 दिनों तक चलेगी।

सूत्रों के अनुसार, बैठक में अमरनाथ यात्रा की तैयारियों व सुरक्षा व्यवस्था की समीक्षा की गई। इस साल सुगम और घटना मुक्त तीर्थयात्रा सुनिश्चित करने के लिए फूलप्रूफ सुरक्षा कवच बनाने पर जोर दिया गया। संदिग्धों पर कड़ी नजर रखने और सुरक्षा अधिकारियों को तीर्थयात्रा से पहले आतंकवाद विरोधी अभियान तेज करने का निर्देश दिया गया। घटनामुक्त यात्रा के लिए एक बहुस्तरीय सुरक्षा ग्रिड भी तैयारकिया गया है।

सुरक्षा योजना के हिस्से के रूप में तीर्थयात्री आरएफ आईडी चिप वाले वाहनों में यात्रा करेंगे, जिससे पुलिस उनके मूवमेंट को आसानी से ट्रैक कर सकेगी। यात्रियों को ले जाने वाले वाहनों के लिए जल्द ही कटऑफ टाइमिंग जारी की जाएगी ताकि वे सुरक्षा एजेंसियों के रडार पर रहें। बैठक में श्री अमरनाथ श्राइन बोर्ड, प्रशासन, पुलिस, सेना, सीआरपीएफ, बीएसएफ व अन्य सुरक्षा एजेंसियों के अधिकारी मौजूद थे।

जवानों को राजमार्गों के किनारे, आधार शिविरों, संवेदनशील स्थानों पर और पवित्र गुफा की ओर जाने वाले दोनों मार्गों-पहलगाम और बालटाल सोनमर्ग पर तैनात किया जाएगा। घाटी पहुंचने वाली अतिरिक्त कंपनियों में सीआरपीएफ, आईटीबीपी, बीएसएफ और सशस्त्र सीमा बल (एसएसबी) की कंपनियां शामिल हैं। उन्होंने कहा कि यह प्रक्रिया मई अंत तक जारी रहेगी और उसी के अनुसार तैनाती की जाएगी।

बताते चले कि जम्मू-कश्मीर सरकार इस साल एक ऐतिहासिक यात्रा की उम्मीद कर रही है जिसमें रिकॉर्ड संख्या में यात्रियों के भगवान शिव के हिमलिंग के दर्शन करने की उम्मीद है। सरकार को इस साल छह से आठ लाख यात्रियों की उम्मीद है।

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here