Friday, April 19

वीसी साहब होटल करीम और न्यूटिमा पर क्यों शुरू नहीं हुई कार्रवाई, जनता को हस्तिनापुर विकास से पहले 2021 की महायोजना व अवैध निर्माण तथा कच्ची कालोनियां का क्या हुआ ये बताईये?

Pinterest LinkedIn Tumblr +

मेरठ 27 जनवरी (विशेष शहर संवाददाता)। गढ़ रोड़ स्थित न्यूटिमा और दिल्ली रोड़ ईदगाह के निकट बने होटल करीम के अवैध निर्माण और घेरी गई सरकारी संपत्ति पर कार्रवाई के लिए पूर्व में तारीखे घोषित किये जाने के उपरांत भी लिये गये सख्त निर्णय पर अमल न होने को लेकर आज अवैध निर्माण जाम से परेशान कई जागरूक नागरिकों को मौखिक रूप से यह कहते सुना गया कि लगता है मेरठ विकास प्राधिकरण मेडा और नगर निगम के अधिकारी भी नागरिकों का ध्यान मुख्य समस्याओं से हटाने के संदर्भ में कुछ प्रचलित गुर सीख गये है। इस संदर्भ में इनका कहना है कि अगर ऐसा नहीं होता तो सरधना विधायक अतुल प्रधान की हड़ताल के बाद न्यूटिमा का अवैध निर्माण तोड़े जाने की कार्रवाई कर दी गई होती और नागरिकों को स्पष्ट रूप से बताया गया होता कि कितना क्षेत्र शमन योग्य था और कितना तोड़ना और उससे कितना शमन शुल्क आया। इसी प्रकार से पूर्व में होटल करीम को तोड़े जाने हेतु 27 जनवरी शायद मुकरर की गई थी मगर खबर लिखे जाने तक कार्रवाई शुरू ही नहीं की गई।

कुछ जानकारों का कहना है कि पूर्व में भी रूड़की रोड़ मवाना रोड़ और दिल्ली रोड़ के बीच बेहिसाब अवैध निर्माण अभी चल रहे है। उन्हें रोकने की कोई ठोस कार्रवाई करना तो दूर पूर्व में जो कच्ची कालोनियां और कम्पलैक्स तथा दुकाने सरकार की निर्माण नीति के विरूद्ध बनकर तैयार हुई उन्हें या तो छेड़ा ही नहीं गया अगर कहीं थोड़ी बहुत कार्रवाई की गई तो वहां तोड़ने का दिखावा किया गया। जिनमे ज्यादातर में निर्माण दोबारा हो गया है। मगर वीसी साहब की घोषणा कि तोड़ा गया निर्माण अगर दोबारा बनाया गया तो कार्रवाई की जाएगी के बाद भी अभी तक कच्ची कालोनियां काटने और सरकारी भूमि अथवा नियम विरूद्ध अवैध निर्माण करने के विरूद्ध शायद कोई एफआईआर नहीं कराई गई है।

एक बुजुर्ग सत्ताधारी दल की राजनीति करने वाले सज्जन का मौखिक रूप से कहना था कि एमडीए के अधिकारी होटल करीम न्यूटिमा और अन्य अवैध निर्माणों व कच्ची कालोनियां के लिए जिम्मेदार अपने सहयोगियों को बचाने के लिए कोई कार्रवाई नहीं कर रहे है बस उसे आगे टाले जा रहे है थोड़े दिनों बाद ट्रांसफर हो जाएंगे तो सब भूल जाएंगे। एक सज्जन ने अपना नाम न छापने की शर्त पर कहा कि नई टाउनसिप व हस्तिनापुर विकास तथा 2031 की महायोजना को लागू करने के नाम पर बड़े बड़े दावे और घोषणा कर रहे अधिकारी बताये कि 2021 महायोजना समाहित योजनाऐं क्या सब पूरी हुई अगर नहीं तो क्यों?

जहां तक हस्तिनापुर के विकास की बात है तो प्राधिकरण के अधिकारी अपने द्वारा बनाई गई कालोनियों में पानी की निकासी टूटी सड़के और सुविधाओ के लिए तरशते नागरिकों को राहत दिलाये और फिर हस्तिनापुर विकास की बात करे तो अच्छा है। स्मरण रहे कि प्राधिकरण के अफसर आगे क्या क्या करेंगे ये तो बता रहे है लेकिन पिछले दो साल में क्या उपलब्धियां हुई और कौन कौन से जनहित के काम हुए तथा विभाग में भ्रष्टाचार के आरोपियों के विरूद्ध क्या कार्रवाई पूर्ण विवरण के साथ आम आदमी को ये बताये तो अच्छा है।
माननीय वीसी साहब जनता में जो चर्चा हो रही है वो ठीक ही नजर आती है क्योंकि अगर कोई जांच हो जाए तो मेडा के पास जनहित में किये गये कार्यों की कोई बहुत बड़ी सूची उपलब्ध नहीं होगी।

Share.

About Author

Leave A Reply