Tuesday, June 18

नशे में स्कूल आने पर सहायक अध्यापक निलंबित

Pinterest LinkedIn Tumblr +

मेरठ 22 नवंबर (प्र)। प्रदेश में बेसिक शिक्षा विभाग के अधीन संचालित प्राथमिक विद्यालयों में नियुक्त शिक्षकों की लापरवाही के मामले सामने लगातार सामने आ रहे हैं। इस बार बेसिक शिक्षा अधिकारी ने नशे में स्कूल आने वाले एक सहायक अध्यापक को निलंबित कर दिया है। बताया जाता है कि सहायक अध्यापक दिन में बिना बताए स्कूल से अक्सर गायब भी हो जाते हैं।
सहायक अध्यापक हंसबीर सिंह की नियुक्ति ब्लॉक माछरा क्षेत्र के प्राथमिक विद्यालय नवीपुर अमानतनगर में है वह बिना सूचना के अक्सर विद्यालय से नदारद रहते हैं। करवाचौथ पर महिला सहायक अध्यापिका छुट्टी पर थी, उस दिन भी वह विद्यालय नहीं पहुंचे। इस वजह से स्कूल का गेट तक नहीं खुला और बच्चे काफी देर तक स्कूल के बाहर खड़े रहे।

आरोप है कि हंसबीर सिंह अक्सर शराब के नशे में स्कूल आते हैं। यह खुलासा खंड शिक्षा अधिकारी के औचक निरीक्षण में हो चुका है। बताया जा रहा है सस्पेंड सहायक अध्यापक कई बार स्कूल में रजिस्टर में हाजिरी लगाने के बाद बिना बताए चले जाते हैं। लोगों का यह भी कहना है कि हाजिरी लगाने के बाद अध्यापक ठेके पर जाकर दिन में ही शराब का सेवन करते है।

निलंबन के बाद इसी स्कूल में बहाली पहले भी कुछ ऐसे ही आरोपों के चलते अध्यापक का निलंबन हो चुका है। नियमों के अनुसार किसी भी शिक्षक को शिक्षण कार्य में लापरवाही बरतने पर विभागीय कार्रवाई के दौरान निलंबन किया जाता है। उसे जांच होने तक किसी दूसरे विद्यालय में अटैच किया जाता है, लेकिन यहां पहले भी निलंबन होने के बाद शिक्षक को इसी विद्यालय में नियुक्ति मिल गई।
79 छात्र-छात्राओं का भविष्य दांव पर नबीपुर अमानतनगर के प्राथमिक विद्यालय में 79 बच्चे पंजीकृत हैं लेकिन शिक्षक द्वारा शराब के नशे मे स्कूल आने से इन बच्चों का भविष्य दांव पर लग गया है।
बेसिक शिक्षा अधिकारी आशा चौधरी ने बताया कि शिकायत मिलने पर खंड शिक्षा अधिकारी के माध्यम से जांच कराई गई थी, जिनकी संस्तुति के बाद शिक्षक को निलंबित कर दिया गया है।

Share.

About Author

Leave A Reply