Saturday, July 20

देश की 41 फीसदी आबादी पर भाजपा का अपने बूते राज, कांग्रेस तीन राज्यों में सिमटी

Pinterest LinkedIn Tumblr +

नई दिल्ली 04 दिसंबर। मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और राजस्थान विधानसभा चुनावों में जीत के साथ भाजपा अब अपने दम पर देश की 41 फीसदी से ज्यादा आबादी पर राज करेगी, जबकि दूसरी सबसे बड़ी राष्ट्रीय पार्टी कांग्रेस राजस्थान व छत्तीसगढ़ में हार के बाद तीन राज्यों में सिमट गई है। वहीं, दिल्ली व पंजाब में सत्ताधारी आम आदमी पार्टी (आप) राष्ट्रीय पार्टियों में तीसरे स्थान पर है।
अगर गठबंधन सहयोगियों के लिहाज़ से शासन चलाने का पहलू देखें, तो बीजेपी का शासन अब देश की आधी से ज़्यादा आबादी पर हो गया है. इसके विपरीत, देश की सबसे पुरानी और प्रमुख कहलाने वाली विपक्षी पार्टी कांग्रेस का शासन खुद के बूते देश की सिर्फ़ 8.51 प्रतिशत जनसंख्या पर रह गया है, हालांकि गठबंधन सहयोगियों के बूते कांग्रेस अब भी 19.84 प्रतिशत हिन्दुस्तानियों पर राज कर रही है.
देश की जनसंख्या का आधिकारिक आंकड़ा सिर्फ़ जनगणना के ज़रिये हासिल हो सकता है, इसलिए जो आंकड़े आप यहां पढ़ रहे हैं, वे 12 साल पुराने हैं, लेकिन हर राज्य का जनसंख्या प्रतिशत भी देश की 12 साल पुरानी आबादी के लिहाज़ से ही बताया जा रहा है, सो, सही रहेगा.

अगर हम पहले यह देखें कि बीजेपी का राज देश की आधी से ज़्यादा आबादी पर कैसे है, तो सबसे पहले देखते हैं कि वह अपने बूते कहां-कहां शासन कर रही है. रविवार को आए चुनाव परिणामों के बाद अब देश के 12 राज्यों में बीजेपी की अपनी सरकार होगी – उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, राजस्थान, गुजरात, असम, छत्तीसगढ़, हरियाणा, उत्तराखंड, त्रिपुरा, मणिपुर, गोवा तथा अरुणाचल प्रदेश. अगर 2011 की जनगणना के लिहाज़ से देखें, तो उत्तर प्रदेश में उस वक्त हिन्दुस्तान की 16.51 प्रतिशत आबादी बसती थी, तो आज भी देश की बढ़ी हुई आबादी का इतना ही प्रतिशत उत्तर प्रदेश में बसता होगा.
इस लिहाज़ से यूपी में देश की 16.51 प्रतिशत, एमपी में छह प्रतिशत, राजस्थान में 5.66 प्रतिशत, गुजरात में 4.99 प्रतिशत, असम में 2.58 प्रतिशत, छत्तीसगढ़ में 2.11 प्रतिशत, हरियाणा में 2.09 प्रतिशत, उत्तराखंड में 0.83 प्रतिशत, त्रिपुरा में 0.3 प्रतिशत, मणिपुर में 0.21 प्रतिशत, गोवा में 0.12 प्रतिशत तथा अरुणाचल प्रदेश में 0.11 प्रतिशत रहती है, और इस तरह बीजेपी देश की कुल 41.51 प्रतिशत आबादी पर अपने खुद के बूते शासन कर रही है.

इन 12 राज्यों के अलावा, भारतीय जनता पार्टी, यानी बीजेपी महाराष्ट्र (9.28 प्रतिशत), मेघालय (0.25 प्रतिशत), नागालैण्ड (0.16 प्रतिशत) तथा सिक्किम (0.05 प्रतिशत) में रहने वाली कुल 9.74 प्रतिशत आबादी पर गठबंधन के ज़रिये भी राज कर रही है, सो, बीजेपी का राज कुल मिलाकर देश की आधी से ज़्यादा, यानी 51.25 प्रतिशत आबादी पर हो गया है.
दूसरी ओर, देश की सबसे पुरानी राजनैतिक पार्टी भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस, यानी कांग्रेस की अब सिर्फ़ तीन राज्यों में अपने बूते सरकार रह जाएगी. इन तीन राज्यों में देश की कुल 8.51 प्रतिशत आबादी बसती है. ये राज्य हैं – कर्नाटक (5.05 प्रतिशत), तेलंगाना (2.89 प्रतिशत) तथा हिमाचल प्रदेश (0.57 प्रतिशत). इसके अलावा, कांग्रेस गठबंधन सहयोगी के रूप में भी दो राज्य सरकारों में शामिल है, जो हैं – बिहार और झारखंड. इन दोनों राज्यों में क्रमशः 8.6 प्रतिशत तथा 2.73 प्रतिशत आबादी बसती है, सो, इसे मिलाकर कांग्रेस का शासन देश की 19.84 प्रतिशत आबादी पर रह गया है.

28.91ः भारतीयों पर अन्य दलों का राज
देश के अन्य राज्यों एवं केंद्रशासित प्रदेशों पर राष्ट्रपति अथवा अन्य दलों का शासन है, जहां देश की कुल आबादी का 28.91 प्रतिशत हिस्सा बसता है. अगर विशेष रूप से राष्ट्रीय दल का दर्जा पाई पार्टियों की बात करें, तो कांग्रेस और बीजेपी के अलावा देश में चार और राष्ट्रीय दल हैं – आम आदमी पार्टी, बहुजन समाज पार्टी, मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी तथा नेशनल पीपल्स पार्टी. इन चार दलों में से आप का राज दिल्ली (1.39 प्रतिशत) तथा पंजाब (2.29 प्रतिशत) में देश की 3.68 प्रतिशत आबादी पर है. सीपीएम की सरकार सिर्फ़ केरल (2.76 प्रतिशत) में है, और बीएसपी का राज सिर्फ़ मेघालय (0.25 प्रतिशत) में. छठे राष्ट्रीय दल एनपीपी का राज फिलहाल पूरे देश में किसी भी राज्य में नहीं है.

Share.

About Author

Leave A Reply