Saturday, February 24

जालंधर में एक परिवार के पांच सदस्यों के मिले शव, आर्थिक तंगी के चलते किया सुसाइड

Pinterest LinkedIn Tumblr +

चंडीगढ़ 02 जनवरी। पंजाब के जालंधर में एक परिवार के पांच सदस्यों की मौत हो गई है. पुलिस इस मामले में आत्महत्या की आशंका जता रही है. यह घटना जालंधर के आदमपुर की बताई जा रही है. जांच में जुटी पुलिस अधिकारियों ने बताया कि कर्ज ना चुकाने के कारण परेशान होकर घर के मुखिया ने सब की हत्या की उसके बाद खुद भी मौत को गले लगा लिया. मृतकों में एक पुरुष 3 महिलाएं और एक 3 साल का मासूम बच्चा बताया जा रहा है. पुलिस ने मौके पर पहुंच कर जांच शुरू कर दी.

पांच मृतकों की पहचान मनमोहन सिंह (55), उनकी पत्नी सरबजीत कौर, उनकी दो बेटियां, ज्योति (32) और गोपी (31), और ज्योति की बेटी अमन (3) के रूप में की गई. यह घटना तब सामने आई जब मनमोहन सिंह के दामाद सरबजीत सिंह ने कहा कि वह कुछ समय से फोन पर परिवार से संपर्क करने की कोशिश कर रहे थे, लेकिन किसी ने फोन नहीं उठाया. जब सरबजीत सिंह उनके घर गए तो उन्होंने मनमोहन सिंह और उनकी पत्नी को पंखे से लटका हुआ पाया, जबकि ज्योति, गोपी और अमन के शव बिस्तर पर पड़े थे.

घटना की सूचना मिलते ही रात 8:20 बजे थानाध्यक्ष मंजीत सिंह और आदमपुर के पुलिस उपाधीक्षक (डीएसपी) विजय कुंवर सिंह मौके पर पहुंचे. जांच के दौरान एक सुसाइड नोट बरामद हुआ. मनमोहन सिंह द्वारा लिखे गए सुसाइड नोट में उन्होंने विवादों और कर्ज से तंग आकर यह कदम उठाने की बात कही है.

पुलिस अधिकारियों ने कहा कि सभी पीड़ितों की गर्दन पर चोट के निशान थे और ऐसा प्रतीत होता है कि उन सभी की मौत फांसी लगाने से हुई. उन्होंने कहा कि उन्हें अमन के गालों पर चोट के निशान मिले हैं, जिससे पता चलता है कि किसी ने उसे फांसी पर लटका दिया होगा. पुलिस ने शवों को पोस्टमार्टम के लिए जालंधर सिविल अस्पताल भेज दिया है.

Share.

About Author

Leave A Reply