Monday, April 15

प्रेमी ने ही उतारा था काजीपुर की माया को मौत के घाट

Pinterest LinkedIn Tumblr +

मेरठ 13 दिसंबर (प्र)। लोहिया नगर क्षेत्र काजीपुर निवासी महिला की हत्या किसी गैर ने नहीं बल्कि उसके प्रेमी ने ही अंजाम दिया था। प्रेमी ने ही उसे फोन कर घर से बाहर मिलने के लिए बुलाया। होटल में ले जाकर उसे शराब पिलाई। जिसके बाद उसकी महिला से किसी बात पर अनबन हो गई। प्रेमी ने मारपीट की उसकी हत्या कर शव को ठिकाने लगाने के लिए फफूंडा के जंगल में डाल दिया था। पुलिस ने कातिल प्रेमी को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने महिला का मोबाइल भी बरामद किया है। मृतक महिला माया पत्नी विजय के 3 बच्चे हैं।

शुक्रवार को लोहिया नगर क्षेत्र ग्राम फफूंडा के जंगल में एक महिला की लाश मिली थी। शव पर मारपीट की चोट के निशान भी पाये गये थे। पुलिस ने दो दिन बाद ही महिला के शव के शिनाख्त काजीपुर निवासी माया 45 वर्ष पत्नी विजयपाल के रुप में की थी। माया शुक्रवार को चार बजे के आसपास घर से सब्जी लेने की बात कहकर निकली थी, लेकिन चंद घंटे बाद महिला की लाश फ फूंडा के जंगल में ग्रामीणों को मिली थी। जिसमें उन्होंने पुलिस को सूचना दी थी। परिजनों ने बताया था कि माया के पास मोबाइल था।

लोहिया नगर पुलिस ने काजीपुर की माया की हत्या का खुलासा करते हुए कंकरखेड़ा क्षेत्र लाला मौहम्मदपुर निवासी दीपक पुत्र रामकिशन नाम के युवक को गिरफ्तार किया है। पुलिस के अनुसार दीपक का माया से प्रेमप्रसंग था। जिसमें दीपक ने माया को अपने पास बुलाया था। जहां दोनों ने मिलकर पहले शराब पी। उसके बाद किसी बात पर दोनों के बीच अनबन हो गई। जिसमें में दीपक ने माया की मारपीट गला घोंटकर हत्या कर दी। दीपक ने माया की हत्या के बाद उसके शव को ठिकाने लगाने के लिए ग्राम फफूंडा के जंगल में फेंक दिया था।

माया लाला मौहम्मदपुर कंकरखेड़ा की रहने वाली थी। मायके के ही रहने वाले दीपक से उसका पुराना प्रेमप्रसंग था। जिसके चलते दोनों काफी समय से मोबाइल पर बातें करते थे। शुक्रवार को दीपक ने माया को कुटी चौपले पर बुलाया था। उसके बाद वह माया को बाइक पर बैठाकर रोहटा रोड के पास एक ओयो होटल में ले गया। जहां पर पहले दोनों ने शराब पी। उसके बाद जब वह उसे छोड़ने जा रहा था। तो बीच रास्तें में किसी बात पर माया से उसकी अनबन हो गई। दोनों के बीच विवाद हो गया। जिस पर दीपक ने कुटी चौपाले के आसपास ही उसकी मारपीट कर हत्या कर दी।

Share.

About Author

Leave A Reply