Sunday, April 14

‘लुटेरी दुल्हन’ गैंग का खुलासा, प्यार से खाना खिलाकर करती है बेहोश फिर ज्वेलरी- कैश लेकर हो जाती है फरार

Pinterest LinkedIn Tumblr +

मैनपुरी 10 नवंबर। उत्तर प्रदेश में तेजी से बढ़ रहीं लूट की वारदातों के बीच यूपी पुलिस कई ऐसे लूट करने वाले गैंग का खुलासा करती है, जिसके बारे में जानकर हर कोई हैरान हो जाता है। उत्तर प्रदेश के मैनपुरी की पुलिस ने ऐसी ही एक लुटेरी दुल्हन गैंग के 7 सदस्यों को गिरफ्तार करते हुए इनका खुलासा किया है। आरोपी गैंग की गिरफ्तारी के बाद हुई पूछताछ में हुए खुलासे को लेकर पुलिस ने बताया कि ये गैंग रेकी करके पहले उन लड़कों को खोजने का काम करता था, जिनकी शादियां नहीं होती हैं और फिर किसी तरह उनसे शादी करने के बाद घर की दुल्हन बनी गैंग की महिला सदस्य परिवार को बेहोश करके वहां से सोने चांदी के जेवरात के साथ नगदी आदि लेकर मौके से फरार हो जाती थी।

पुलिस ने बताया कि ये गैंग कुंवारे लड़कों की जानकारी मिलने के बाद उस कुंवारे लड़के या उसके परिवार के आगे रिश्ता लेकर जाते थे और एक लड़की के जानकारी में होने की बात कहते थे। इतना ही नहीं, शादी के एवज में कुछ पैसे देने की बात कहते हुए शादी करा देने का आश्वासन देते थे। पुलिस ने बताया कि विवाह की बात बनने पर शादी तो हो जाती थी, लेकिन कुछ दिन बाद दुल्हन सब्जी आदि में जहरीला पदार्थ मिलाकर दूल्हे के परिवार के सभी सदस्यों को बेहोश करके घर में रखे सोने-चांदी के जेबरात नकदी इत्यादि लेकर फरार हो जाती थी। पुलिस के अनुसार, पकड़े गए 7 सदस्यीय गैंग में 5 महिलाएं और दो पुरूष शामिल हैं।

पुलिस ने एक ताजे मामले का जिक्र करते हुए बताया कि मैनपुरी के थाना घिरोर इलाके के रामगंज गांव के रहने वाले शिशुपाल के साथ इसी तरह की घटना घटित हुई। शिशुपाल की शादी होने को लेकर काफी अड़चने आ रहीं थी। उसी दौरान इस गैंग के लोगों ने अपनी प्लानिंग के अनुसार जाल बिछाया और शिशुपाल को शादी के लिए राजी करा लिया। गैंग की ओर से इसे लेकर 80 हजार रुपए भी लिए गए और फिर इसी साल बीते 8 फरवरी को रेनू नाम की लड़की से उसकी शादी करा दी। बताया जाता है कि शादी के 3 दिन बाद 11 फरवरी को रेनू ने रात्रि के खाने में नशीला पदार्थ मिला दिया और फिर सभी के बेहोश होने पर दुल्हन रेनू घर में रखे सोने-चांदी के जेवरात व नकदी आदि लेकर फरार हो गई।

Share.

About Author

Leave A Reply