Wednesday, May 22

एशियाई खेलों में खिलाड़ियों ने लगाई पदकों की झड़ी, देश का नाम किया रोशन

Pinterest LinkedIn Tumblr +

प्रयास और लगन चाहे खिलाड़ियों का हो या उनके अभिभावकों का लेकिन खेलों में जिस उत्साह उमंग के साथ हमारे खिलाड़ी प्रदर्शन कर रहे हैं उससे उन पर तो नौकरियों और ईनामों की बरसात हो रही है। केंद्र सरकार का भी नाम और छवि इस मामले में उज्जवल होने के साथ साथ पीएम मोदी की छवि में निखार आ रहा है। नागरिकों का कहना है कि खिलाड़ियों को दी जा रही सुविधाओं और दिए जा रहे प्रोत्साहन का यह परिणाम है कि अभी पिछले दिनों भारतीय खिलाड़ी काफी पदक जीतकर लाए थे। जिनकी संख्या 107 के आसपास थी और अब पैरा खिलाड़ियों ने हांगझू में पैरा एशियाई खेलों में 111 पदक जीतकर जहां देश का नाम रोशन किया है। वहीं यह भी स्पष्ट हुआ है कि अगर हमारे गांवों में गरीबी और अभावों में पल रहे बच्चों को अच्छा माहौल और खेलने की सुविधाएं मिले तो वह सभी तरह के खेलों में पदकों की झड़ी लगा सकते हैं। बताते हैं कि तमाम प्रकार के अभावों और आर्थिक तंगी के बावजूद देहातों या आदिवासी इलाकों व पहाड़ों में जन्मे बच्चे शुरू से ही फुर्तीले साहसी व कुछ भी कर गुजरने वाले होते हैं। उन्हें अभ्यास और सुविधा देने की जरूरत है। वो अपने दम पर बड़े खिलाड़ियों का भी मुकाबला जंगलों में बचपन से लेकर जवानाी तक किए गए करतबों के दम पर कर सकते हैं।
पीएम साहब सरकार खेलों में आपके नेतृत्व में बहुत कुछ कर रही है। बस कुछ ऐसा करिए कि कुछ निष्पक्ष छवि के प्रशिक्षकों को जिलों और गांव देहातों मेें भेजिए और संघर्षों में आगे बढ़ रहे खिलाड़ियों का चयन कर खेल अकादमियों में प्रशिक्षण दिलाएं। मुझे लगता है कि ये खिलाड़ी आपकी मंशा को पूरी करने में जी जान लगा देंगे। दूसरी ओर विजेता खिलाड़ियों को प्रदेश सरकार जो प्रोत्साहन दे रही है वो काफी सरानहीय है।

Share.

About Author

Leave A Reply