Friday, July 19

एनएच-58 पर जाम से मिलेगी मुक्ति

Pinterest LinkedIn Tumblr +

मेरठ, 09 मार्च (प्र)। एनएच-58 के चौड़ीकरण की प्रक्रिया शुरू हो सकती है। केंद्रीय भूतल परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने इसका सर्वे कराने की बात कही हैं। जिस तरह से खड़ौली और उसके आसपास हाइवे पर जाम लग रहा है, लोगों को मुसीबत का सामना करना पड़ रहा है। इसका चौड़ीकारण संभव है या फिर एलिविटिड रोड बनेगा। इसको लेकर भी केंद्रीय भूतल परिवहन मंत्री ने सर्वे कराया है। क्योंकि कुछ इलाका ऐसा है, जहां चौडीकरण संभव नहीं है। ऐसा ही खड़ौली में मस्जिद और दुकान और मकान चौड़ीकारण के बीच बड़ी बाधा बन सकते हैं।

एनएचएआई के अधिकारियों ने भी यह फीडबैक दी है कि परतापुर से लेकर सिवाय टोल तक एलिवेटेड रोड बनाई जाए। इस बात को खुद केंद्रीय भूतल परिवहन मंत्री भी पिछले दिनों कह चुके हैं कि मेरठ के हाइवे पर जाम लगने लगा है। यह बात भूतल परिवहन मंत्री ने तब कही थी जब उनसे भाजपा के स्थानीय नेता सड़कों के निर्माण की मांग को लेकर मिलने के लिए गए थे। उन्होंने कहा कि उन्हें मालूम है कि हाइवे पर जाम लग रहा है।

चौड़ीकरण सिक्स लाइन हो सकती है या फिर एलिवेटेड रोड ही इसका एकमात्र रास्ता है। इन तमाम दिक्कतों को देखते हुए ही केंद्रीय भूतल परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने जाम से मुक्ति के लिए सर्वे कराया है। सर्वे की जो भी रिपोर्ट होगी, उसके आधार पर ही केंद्रीय मंत्री चौड़ीकरण या फिर एलिवेटेड रोड का निर्माण करेंगे। बता दे कि हर रोज हाईवे पर खड़ौली के सामने जाम से लोगों का जीना मुहाल हो गया हैं। पूरे हाइवे पर कहीं भी जाम नहीं लगता, लेकिन जैसे ही आप खड़ौली के पास एंट्री करेंगे, तभी जाम से जूझने लगते हैं। वहां धीरे-धीरे वाहन रेंगने लगते हैं। कई किलोमीटर लंबा जाम लग जाता है। इस वास्तविकता को केंद्रीय भूतल परिवहन मंत्री भी जानते हैं और अब इसके बाद ही सर्वे करा रहे हैं। लगता है अब इसका चौड़ीकरण या फिर एलिविटिड रोड बन सकेगा। तब जाम से मुक्ति जनता को मिल सकेगी।

Share.

About Author

Leave A Reply